बिहार कांग्रेस की कलह : राय-मशविरा करने इमारत-ए-शरिया पहुंचे कौकब कादरी

पटना (अजीत) : बिहार प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी आज मंगलवार को फुलवारी शरीफ के प्रसिद्ध खानकाह-ए-मुजिबिया पहुंचे. यहां उन्होंने खानकाह के पीर हजरत मौलाना सैयद शाह आयतुल्लाह कादरी से मुलाकात की. खानकाह में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का प्रबंधक हजरत मौलाना मिन्हाजुद्दीन कादरी ने स्वागत किया और पीर साहेब से हुजरे में ले जाकर दुआ सलाम कराया.

इसके बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कौकब कादरी बिहार-झारखण्ड-उड़ीसा के मुसलमानों के सबसे बड़े एदारा इमारत-ए-शरिया भी पहुंचे. इमारत-ए-शरिया के अमीर-ए-शरीयत हजरत मौलाना वली रहमानी और नाजिम हजरत मौलाना अनीसुर्रहमान कासमी से मुलाकात की. दुआ सलाम के बाद कादरी ने अमीर-ए-शरीयत साहेब से मुल्क व सूबे की तरक्की के बारे में गुफ़्तगू की. इस मुलाकात ने आपसी कलह से जूझ रही प्रदेश कांग्रेस पार्टी में सरगर्मी को बढ़ा दिया. कादरी को अमीर-ए-शरीयत ने कांग्रेस पार्टी को आपसी कलह से उबारने में कामयाब होने की दुआ भी दी.

इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए कादरी ने कहा कि फुलवारी शरीफ की धरती पाक जगह है. यहां पीर साहेब से दुआ लेने आये थे. उन्होंने कहा कि मुल्क व सूबे की तरक्की के लिए दुआ मांगी है. इमारत शरिया वर्षों से मुल्क में सामाजिक, धार्मिक, शैक्षणिक व स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करती आ रही है. समाज के वंचित तबके के लोगों की तरक्की व बेहतरी के लिए इमारत शरिया बढ़ चढ़ कर मदद की रौशनी पहुंचाती है.

कांग्रेस अध्यक्ष कौकब कादरी ने खानकाह-ए-मुजिबिया के संस्थापक सूफी संत हजरत सैयद शाह पीर मुजीबुल्लाह की दरगाह शरीफ में जाकर मजार पर शीश नवाया और दुआ मांगी. इसके बाद कादरी खानकाह कब्रिस्तान भी गए, जहां उन्होंने अपने मरहूम पिता अबरार अहमद कादरी की मजार पर जाकर दुआ मांगी.

इस मौके पर नजमुल हसन नजमी, शहाब मल्लिक, मो. इकबाल, मो. इदरीस, नोमान अहमद, अजय वर्मा समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*