GST से सरकार मालामाल, सितंबर में कमाए 92150 करोड़ रुपये

लाइव सिटीज डेस्क : नोटबंदी के बाद सरकार ने दूसरा बड़ा कदम जीएसटी के रूप में उठाया. कारोबारियों को कई तरह की परेशानी होने लगी. सरकार को विपक्षी दलों के साथ-साथ अपनों से भी खूब सुनने को मिला. पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने पीएम मोदी और अरुण जेटली पर देश की अर्तव्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया. तो कांग्रेस भी खूब हमलावर रही. दबाव में आ कर कई तरह के बदलाव भी जीएसटी में करने पड़े. लेकिन जीएसटी लागू होने के बाद सरकार ने सितंबर महीने में वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के रूप में 42.91 लाख कारोबारी इकाइयों से 92150 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रह प्राप्त किया है.

वित्त मंत्रायल ने बुधवार को बताया है कि सितंबर में केंद्रीय जीएसटी के तहत 14,042 करोड़ रुपये और राज्य जीएसटी के तहत 21172 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है. इस दौरान एकीकृत जीएसटी संग्रह 48,948 करोड़ रुपये के स्तर पर रहा है. इसमें 23951 करोड़ रुपये आयात (इंपोर्ट) से हासिल हुए हैं. मंत्रालय ने अपने बयान में बताया है कि 23 अक्टूबर, 2017 तक विभन्न मदों के तहत जीएसटी का कुल राज्सव संग्रह 92150 करोड़ रुपये के स्तर पर रहा है.

वहीं, मुआवजा सेस की बात करें तो इसके तहत संग्रह 7988 करोड़ रुपये रहा है. इसमें 722 करोड़ रुपये आयात से मिआवजा सेस के तौर पर हासिल हुआ है. 23 अक्टूबर तक 42.91 लाख कारोबारी इकाइयों मे सितंबर महीने के लिए जीएसटीआर-3बी रिटर्न फाइल किया है.

उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार जुलाई महीने के लिए जीएसटी राजस्व संग्रह 95 हजार करोड़ रुपये था. वहीं अगस्त महीने के लिए यह 91 हजार करोड़ रुपये रहा था.जानकारी के लिए बता दें कि जुलाई में जीएसटी लागू होने के बाद से सितंबर तीसरा महीना है. इस व्यवस्था के लागू होने के बाग करीब एक दर्जन से ज्यादा कर इसमें समाहित हो गए हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*