फिल्म ‘पद्मावती’ के विरोध में छपरा में प्रदर्शन, युवाओं में निकाला जुलूस

chapra1

छपरा: फिल्म पद्मावती में चितौड़ की महारानी पद्मावती के बारे में भारतीय इतिहास से अलग दृश्य दिखाए जाने पर विरोध का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. जिला मुख्यालय के बाद दाउदपुर बाजार पर फिल्म के निर्माता निर्देशक के विरोध में जुलूस निकाला गया. दाउदपुर बाजार पर राष्ट्रीय युवा हिन्दू वाहिनी व राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने संयुक्त रूप से फिल्म के रिलीज होने के विरोध में प्रदर्शन किया व नारे लगाए.

युवाओं ने फिल्म के निर्माता निर्देशक संजय लीला भंसाली का पुतला दहन किया. इस विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से डॉ.ओम प्रकाश सिंह, जितेंद्र सिंह, बिपिन सिंह, फूल सिंह, मकेश्वर सिंह, राणा प्रताप उर्फ़ डब्लू सिंह, डॉ. उमेश कुमार सिंह, दिनेश कुमार सिंह, हरिमोहन सिंह गुड्डू आदि शामिल थे. पुतला दहन के पश्चात एक सभा का आयोजन किया गया.

अपने संबोधन में वक्ताओं ने कहा कि रानी पद्मावती देश की वैसी वीरांगना है जो 16 सौ वीर वीरांगनाओं के साथ देश की आन बान और शान के लिए कभी सर नहीं झुकाया. उसे फिल्मकार संजय लीला भंसाली ने तोड़ मरोड़ कर इतिहास को छेड़ने का काम किया है.

वक्ताओं ने कहा कि सरकार और न्यायालय अगर महारानी पद्मावती के चरित्र को मनोरंजन व आपत्तिजनक दृश्य हटाकर सिनेमा घरों में प्रदर्शित नहीं करेगा हो संगठन इस फिल्म को चलने नहीं देगा. इस मौके पर क्षेत्र के हजारों युवाओं ने शामिल होकर विरोध प्रकट किया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*