‘लालच भारत छोड़ो का लें संकल्प, मैं चौथी कक्षा में पहना था चप्पल’

पटना : पृथ्वी दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने सीएम नीतीश कुमार आज पटना स्थित ज्ञान भवन पहुंचे. इस मौके पर सीएम नीतीश कुमार ने  पर्यावरण को बचाने के लिए वृक्षारोपण पर बल  दिया. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मैं जब चौथी कक्षा में था तब पहली बार चप्पल पहना था. साथ ही अपने भाषण के दौरान इशारों इशारों में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर हमला भी बोला.

studio11

 

सीएम नीतीश ने बढ़ती भौतिक जरूरतों पर तंज कसते हुए कई बातें कहीं. उन्होंने कहा कि उन्होंने चौथी कक्षा में जाने के बाद पहली बार चप्पल पहना था. सीएम ने कहा कि जो बच्चे एसी में पढ़ेंगे, वह बड़े होकर क्या करेंगे. सीएम ने कहा है कि आज अमीर लोग घर मे एयर कंडीशनर लगाए है साथ में कार में भी एयर कंडीशनर और तो और आजकल स्कूल में भी एयर कंडीशनर हो गया है और ये बच्चे बहुत बड़ा सपना सोचते है कि बड़ा होकर आईपीएस अधिकारी बनेंगे लेकिन आपको बता दे जितना आईपीएस अधिकारी काम करते है, वो तो एयर कंडीशनर भी भूल जाते हैं. एसी में रहने वाले बच्चे इतना काम करेंगे तो बेहोश हो जाएंगे.

इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने पृथ्वी दिवस पर कहा है कि 9 अगस्त को पृथ्वी दिवस के तौर पर सारे लोगो ने संकल्प लिया है तो इसको फॉलो भी कीजियेगा. उन्होंने कहा है कि आज तरह तरह के मोबाइल से वीडियो कॉल करते है ये तो सबको आज बहुत ही अच्छा लग रहा है लेकिन दूसरे तरफ आज पर्यावरण का हनन भी हो रहा है, इसको समझने की ज़रूरत है.

उन्होंने कहा है कि जब बिहार झारखंड एक साथ था तो हमलोगों को पर्यावरण अच्छा था लेकिन जब से बिहार झारखंड अलग हुआ तब से पर्यावरण में थोड़ा सा कमी आई है और इसके लिए हम पहल कर रहे है,  पर्यावरण और डिजास्टर मैनेजमेंट पर बहुत ज्यादा काम कर रहे हैं, इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगो से आग्रह किया है कि कम से कम हर आदमी 1 पौधा ही लागए और उसकी सेवा करे तब पता चलेगा कि बिहार में हरित आवरण की कमी नहीं होगी और बिहार में हरित क्रांति आ जायेगी. सीएम ने ये भी कहा है कि मैंने अपने आवास को तो पूरे तरीके से पेड़-पौधे से भर दिया है.

नीतीश कुमार ने कहा है कि जैसे महात्मा गांधी ने 9 अगस्त को कहा था कि अंग्रेजो भारत छोड़ो वैसे ही मेरे साथ और आपलोग भी कहिये लालच भारत छोड़ो.  उनकी इस अपील को नीतीश कुमार के उस बयान से जोड़ कर देखा जा रहा है जिसमें उन्होंने महागठबंधन से अलग होते वक कहा था कि कितना पैसा जमा कीजिएगा, याद कीजिए कफ़न में जेब नहीं होता है. सीएम नीतीश ने बालू माफिया पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि बालू माफिया को जितना बालू खोदने का टेंडर मिलता है उससे ज्यादा बालू निकालते हैं.

उन्होंने कहा है कि बिहार में बहुत घोटाले बाज हो गए है पता नही ये घोटालेबाज कहां कहां से आ गए हैं. मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार ने एक नया खुलासा करते हुए कहा हैै कि भागलपुर में सरकारी खजाने  के पैसे को काफी तेजी से फर्जी व्यवसाय के माध्यम से दूसरी जगह ट्रांसफर किया जा रहा है. सीएम नीतीश ने कहा  कि यह छोटा-मोटा मामला नहीं बल्कि 200-250 करोड़ का घोटाला हो रहा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसके जांच की कार्रवाई दिन-रात की जा रही है और जल्द ही इसके नतीजे सामने आएंगे. सीएम नीतीश ने कहा कि यह सरकारी ज़मीन अधिग्रहण से जुड़ा मामला है.

यह भी पढ़ें – बापू हमें माफ करना हम भटक गए थे, वो आपके हत्यारों का साथी निकला

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*