पटना एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने को लेकर मीटिंग, राजगीर-नालंदा पर भी चर्चा

फाइल फोटो

पटना : सोमवार को पटना आये केंद्रीय नागर विमानन मंत्री अशोक गणपति राजू और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की एक महत्वपूर्ण बैठक आज मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद सभाकक्ष में संपन्न हुई. बैठक में पटना हवाई अड्डा के टर्मिनल बिल्डिंग के निर्माण संबंधी प्रारूपण एवं नालंदा/राजगीर के ग्रीनफिल्ड हवाई अड्डा के निर्माण पर विस्तृत विचार-विमर्श हुआ. इस दौरान पटना एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का एयरपोर्ट बनाने को लेकर विस्तृत चर्चा हुई.

इस क्रम में कंसलटेंट कम्पनियों के द्वारा एयरपोर्ट के टर्मिनल बिल्डिंग निर्माण एवं प्रारूपण के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया गया. इसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा कई आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये गये. प्रस्तुतीकरण के क्रम में टर्मिनल बिल्डिंग के निर्माण एवं प्रारूपण में क्षेत्रीय विरासत को प्रमुखता से प्रमोट करने की चीजें दिखायी गईं. मुख्यमंत्री ने बिहार संग्रहालय की चर्चा करते हुये कहा कि यहां बहुत सी चीजें हैं, जो बिहार की स्मृति को दर्शाती हैं, इसमें से कई चीजों का चयन किया जा सकता है.

CM
केंद्रीय मंत्री के साथ बैठक करते CM नीतीश कुमार

इस प्रोजेक्ट में कम खर्च, यात्रियों की बेहतर सुविधा, कमर्शियल एरिया से आमदनी का स्रोत, जलवायु के हिसाब से लैंड स्किपिंग पैटर्न इत्यादि पर विस्तृत चर्चा हुई. राजगीर या नालंदा में एयरपोर्ट बनाने की संभावना को लेकर प्रस्तुतीकरण दिया गया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू एवं सचिव, नागर विमानन मंत्रालय, आरएन चौबे को अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिह्न भेंट किया.

इस अवसर पर मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, विकास आयुक्त शिशिर सिन्हा, प्रधान सचिव मंत्रिमण्डल समन्वय ब्रजेश मेहरोत्रा, प्रधान सचिव राजस्व एवं भूमि सुधार विवेक कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अतीश चन्द्रा, मुख्यमंत्री के सचिव मनीष कुमार वर्मा, अध्यक्ष, भारतीय नागर विमानपतन प्राधिकरण, संयुक्त सचिव, नागर विमानन मंत्रालय सहित नागर विमानन मंत्रालय, भारत सरकार के वरीय अधिकारी, आयुक्त पटना प्रमण्डल, जिलाधिकारी, पटना एवं नालंदा तथा अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*