अमेरिका में पीएम मोदी का डिजिटल पोस्टर, लोगों ने कहा- यहां लगता है पॉर्न हब का भी एड

लाइव सिटीज डेस्क : भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने हाल ही में कुछ तस्वीरें शेयर की थी. दरअसल यह अमेरिका के टाइम्स स्क्वायर में लगा पीएम मोदी का पोस्टर था. तस्वीर में Times square के बिलबोर्ड पर प्रधानमंत्री मोदी दिख रहे हैं. इस विज्ञापन की तस्वीर वायरल होते ही सोशल मीडिया में बवाल मचा हुआ है. फेसबुक यूजर हुमा नकवी ने एक लम्बा पोस्ट लिख कर कहा है कि जहां पीएम मोदी का पोस्टर लगा है वहां पोर्न हब का भी विज्ञापन लगता है. और यह मुफ्त नहीं है, पेड है.

दरअसल प्रिया कुलकर्णी नाम की एक पीएम मोदी की फैन ने 19 अक्टूबर को यह तस्वीर शेयर की थी. जिसे अमित मालवीय ने साझा करते हुए लिखा था “ऐसा लगता है कि @OfficeOfRG (कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी का ऑफिस) का दुख इसके बाद गले लगने से भी कम नहीं होगा.” हालांकि उसके बाद अमित मालवीय ने इससे संबंधित एक वीडियो भी जारी किया था. जिसमें उन्होंने लिखा है कि अभी तक आपने बस तस्वीर देखी थी, अब वीडियो भी.

आगे अब आप हुमा नकवी की यह फेसबुक पोस्ट पूरा पढ़ें-

PM की तस्वीर टाइम स्क्वायर पर जहाँ पोर्न साइट्स की एड्स भी दिखे..
============================================

जब बात बीजेपी की प्रचार की आती है तो भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में एक राजनीतिक पार्टी उसपर सबसे ऊपर देखी जाती है, और वो है भाजपा। 2014 लोकसभा चुनाव अभियान में कथित रूप से 10,000 करोड़ रुपये खर्च कर बीजेपी ने ये स्थान हासिल किया है। अभी तक भाजपा प्रचार मोड से बाहर ही नहीं निकली है। जिस तरह के झूट ‘गुजरात मॉडल’ के नाम पर 2014 में फैलाए गए थे वैसे ही अभी तक फैलाए जा रहे हैं।

हाल ही में भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्विटर पर एक तस्वीर पोस्ट की। ये तस्वीर अमेरिका की Time Square बिल्डिंग की है। तस्वीर में Times square के बिलबोर्ड पर प्रधानमंत्री मोदी दिख रहे हैं। लेकिन Times Square पर पीएम मोदी की तस्वीर लगने की हकीकत कुछ और है। दरअसल Times Square पर तस्वीर लगाने के लिए पैसे देने पड़ते है। अगर आपको Times Square के बिलबोर्ड पर तस्वीर लगवानी है तो आपको सालाना 25 से 30 करोड़ खर्च करने होंगे। पीएम मोदी की ये तस्वीर वहां लगाने के लिए भी अच्छी खासी मोटी रकम देनी पड़ी। गौरतलब है कि पिछले तीन साल में मोदी सरकार प्रचार में 1500 करोड़ रुपये खर्च कर चुकी है।

इस Times Square बिल्डिंग पर पैसे देकर कोई भी अपनी तस्वीर लगवा सकता है। यहाँ तक कि एडल्ट फिल्में बनाने वाली वेबसाइट Pornhub का भी इस Times square पर लग चुका है (जिसके फोटो आप यहाँ देख सकते हैं। अमेरिका में इनेर्नेट पर ठीक उसी तरह से देखी जाती जिस हम भारतीय youtube देखते हैं… ना सिर्फ पोर्नहब बल्कि और भी दूसरी पोर्न एड्स टाइम स्क्वायर पर देखे जा चुके हैं.. अब बात यह आती है कि क्या ऐसी जगहों पर जहाँ एडल्ट या अश्लील फिल्मों के प्रचार होते हो वहां पैसे देकर भारत के प्रधानमंत्री की तस्वीर लगवाना कितना सही है? क्या ये भारत के प्रधानमंत्री की गरिमा का प्रश्न नहीं है?

टाइम स्क्वायर के बोर्डस पर एड्स देने की बिज़नस प्रणाली को जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें…
http://www.businessinsider.com/what-it-costs-to-advertise-i…

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*