Breaking News

मगध विश्वविद्यालय में शिक्षकों की घोर कमी

गया : मगध विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर विभागों में नये शिक्षकों की बहाली नहीं होने के कारण विवि में शिक्षकों की घोर कमी हो गई है. प्राप्त जानकारी के अनुसार विवि के विभिन्न स्नातकोत्तर विभागों में पदस्थापित 119 शिक्षक इस वर्ष सेवानिवृत हो जाएंगे. इसके बाद शिक्षकों की संख्या यहां स्वीकृत पदों की मात्र 40 फीसदी रह जाएगी.

जानकारी हो कि वर्ष 2003 से अब तक मगध विवि में स्नातकोत्तर विभागों में शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गई है. मगध विवि में शिक्षकों के स्वीकृत पदों की संख्या 3037 है. इनमें से 2099 शिक्षक के पद विवि में स्थापित स्नातकोत्तर विभागों तथा 36 पुराने कंस्टीचुएंट कॉलेजों के लिए हैं, जबकि 715 पोस्ट अंतिम चरण में कंस्टीचुएंट कॉलेज से कंस्टीचुएंट यूनिट में शामिल किए गए आठ कॉलेजों के लिए स्वीकृत हैं. वहीं यूनिवर्सिटी के द्वारा अल्पसंख्यक कॉलेजों में शिक्षकों के 223 पद स्वीकृत किए गए हैं.

mu

ये है शिक्षकों की संख्या

वर्तमान में मगध विवि के विभिन्न स्नातकोत्तर विभागों तथा 36 कॉलेजों में स्वीकृत 2099 शिक्षकों के विरुद्ध मात्र 812 शिक्षक कार्यरत हैं. इनमें से भी 83 शिक्षक इस वर्ष सेवानिवृत हो जाएंगे. इन शिक्षकों की सेवानिवृति के बाद शिक्षकों की संख्या घटकर मात्र 729 रह जाएगी. वहीं दूसरी ओर आठ नए कंस्टीचुएंट कॉलेजों में स्वीकृत 715 शिक्षकों के पद के विरुद्ध इन कॉलेजों में मात्र 368 शिक्षक कार्यरत हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *