टशन ख़त्म हुआ क्या ! तेज प्रताप खाने बैठे हैं सत्तू-प्याज

पटना : अपनी अलग जीवनशैली के लिए जाने जानेवाले राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे व बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव आज सोमवार को एक बार फिर चर्चा में हैं. दरअसल, वो जब भी कुछ भी करते हैं, तो वो चर्चा में आ ही जाता है. तेज प्रताप आज बिहारियों के फेवरेट भोजन ‘सत्तू’ खाते दिखाई दिए हैं. उन्होंने इसकी कुछ तस्वीरें खुद ही सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर की हैं.

बता दें कि तेज प्रताप कुछ अलग ही स्वभाव के हैं. आस्थावान हैं. कृष्ण के बड़े भक्त हैं. पिछले दिनों उनकी वृंदावन यात्रा खूब चर्चा में रही थी. अपनी वृंदावन यात्रा के पल-पल की तस्वीरें उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर भी की थी. उसके बाद वो वाराणसी और विन्ध्याचल के दर्शन के लिए भी गए थे.

आज सोमवार को बिहार में भी राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग चल रही है. इसी दौरान तेज प्रताप ने कुछ फुर्सत के पल निकाल सत्तू-प्याज का आनंद लिया और इसकी तस्वीरें शेयर की हैं. इन तस्वीरों के साथ उन्होंने संदेश भी लिखा है. तेज प्रताप ने लिखा है – सादा भोजन, सादगी का जीवन और शांत मन. यही है स्पष्ट, स्वच्छ और स्वस्थ विचार पाने का मूल मंत्र. सत्तू का आहार और समाजवादी विचार. जय बिहार.

TEJ

गौरतलब है कि तेज प्रताप के लिए भी हाल के कुछ महीने अच्छे नहीं रहे हैं. उनके एक पेट्रोल पंप का लाइसेंस भारत पेट्रोलियम द्वारा रद कर दिया गया था. हालांकि तेज प्रताप को आवंटित पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद करने के आदेश पर पटना के सिविल कोर्ट ने फिलहाल स्टे लगा दिया है. इसे तेज प्रताप द्वारा बीते दिनों वाराणसी और विन्ध्याचल में की गई पूजा-पाठ का फल भी माना गया था.

उधर भाजपा नेता सुशील मोदी द्वारा उनके परिवार पर लगातार अवैध व बेनामी संपत्ति को लेकर हमले किये गए हैं. इनपर अब कार्रवाई भी शुरू होई गई है. सीबीआई ने लालू प्रसाद सहित तेजस्वी-तेज प्रताप और अन्य कई लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है. लालू प्रसाद के पटना आवास पर सीबीआई की रेड भी हो चुकी है. ऐसे में आज सावन की दूसरी सोमवार को लालू प्रसाद भी महादेव के शरण में आ गए हैं. उनके घर आज रुद्राभिषेक किया गया है.

यह भी पढ़ें –
बाबा के शरण में लालू, आवास पर कराया रुद्राभिषेक
इस ‘डर’ से तेजप्रताप ने बदल दिया अपने घर का रास्ता, अब ये रास्ता चुना है
तेज प्रताप को राहत, पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद करने पर कोर्ट का स्टे

(लाइव सिटीज न्यूज़ के वेब पोर्टल पर जाने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुकऔर ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AgileCRM