पटना के फुलवारीशरीफ में दिया गया अर्घ्य, छठ घाट पर जमे रहे विधायक श्याम रजक

पटना (अजीत कुमार) : राजधानी पटना में फुलवारीशरीफ प्रखंड के शिव मंदिर तालाब, करोड़ीचक स्थित गणेश सिंह का तालाब, बहादुरपुर घाट, गोंणपूरा तालाब, बजरंगबली कोलोनी, इश्वरी सिंह का तालाब, खगौल, अनीसाबाद मानिक चंद तालाब, भुसौला दानापुर सोन नगर के विभिन्न घाटों, जानीपुर के अकबरपुर पुनपुन घाट, राजघाट, धरायचक घाट, बीएमपी तालाब घाट, गौरीचक के पुनपुन घाट आदि के आस-पास के इलाके में शुक्रवार की सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य अर्पित करने के साथ ही लोक आस्था का महापर्व छठ संपन्न हो गया.

इसके बाद व्रतियों ने उपवास तोड़ा और लोगों ने छठ का प्रसाद ग्रहण किया. कोहरे की ओट में छिपे रहे भगवान सूर्य के निकलने का इंतजार शुरू किया. तब तक घाटों पर छठ के गीत गूंजते रहे.

टकटकी लगाये व्रतियों ने ज्योंही पूरब दिशा में भगवान सूर्य की लालिमा दिखी, व्रतियों ने भगवान् भास्कर को अर्घ्य अर्पित करना शुरू किया. कई व्रतियों ने सूर्योदय के समय देखा तो भगवान भाष्कर को निकलने का इन्तेजार करके ही अर्ध अर्पित किया. फुलवारीशरीफ के प्रखंड शिव मंदिर घाट पर पूर्व मंत्री श्याम रजक ने अर्ध्य दिया.

इससे पहले गुरुवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ देने आस्था का जन सैलाब नदी, तालाबों, पोखरों के घाटों पर उमड़ पड़ा. इधर, बच्चों ने छठ घाटों पर आतिशबाजी की. छठ के लिए घाटों को आकर्षक ढंग से सजाया गया था. जहां-तहां घाटों के किनारे भगवान सूर्य की प्रतिमा स्थापित की गई थी. सुबह का अर्घ्य अर्पित करने के बाद व्रती अपने-अपने घरों की तरफ चल पड़े. वहीं रास्ते में सबों को प्रसाद भी बांटा.

जदयू के वरिष्ठ नेता और विधायक श्याम रजक, नगर परिषद चेयरमैन आफताब आलम छठ घाटों पर जमे रहे. वहीं डीएसपी रामकांत प्रसाद, बीडीओ शमशीर मल्लिक, थानेदार धर्मेन्द्र कुमार, जानीपुर थानेदार मोहन प्रसाद सिंह, बेउर थानेदार अलोक कुमार लगातार घूम-घूम कर इलाके में सुरक्षा वयवस्था का जायजा लेते रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*