कुर्सी पकड़े रहे सीनियर नेता, सबको सताता रहा क्रॉस वोटिंग का डर

लाइव सिटीज डेस्कः विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग चल रही थी. उधर चौकीदारी भी खूब जोर-शोर से हो रही थी. कहीं वोट इधर-उधर न गिर जाए. अपने विधायकों पर कड़ी नजर बनाए हुए थे सभी दलों के सीनियर नेता. महागठबंधन के घटक दल कांग्रेस-राजद और जदयू तो निगरानी में लगे ही थी. उधर बीजेपी वालों की भी धड़कनें तेज थीं. भाजपा के सीनियर नेताओं ने भी अपने विधायकों को पूरा लाइनअप किया था. सख्त हिदायत थी कि एक भी वोट मिस नहीं होना चाहिए.

चलिेए आपके सामने वो तस्वीर पेश करने की कोशिश करते हैं जो आज विधानसभा में देखने को मिल रही थी. सबसे पहले बात कांग्रेस की कर लेते हैं. INC के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी अपने विधयाकों को लेकर काफी चिंतित दिख रहे थे. अशोक चौधरी ने कमान संभाल रखी थी. मतदान के शुरू होते ही अशोक चौधरी विधानसभा पहुंच गए और RJD-INC विधायकों की वोटिंग सुनिश्चित करने में जुटे रहे.

कोई वोट गड़बड़ा न जाए इसको लेकर जदयू खेमे से वरिष्ठ नेता श्रवण कुमार भी पैनी नजर बनाए हुए थे. विधानसभा में चल रही राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग को लेकर चौकीदारी कर रहे थे. श्रवण कुमार लगातार JDU विधायकों की वोटिंग सुनिश्चित करने में जुटे दिखे.

अब बात करते हैं भाजपा की. भाजपा को भी कहीं-न-कहीं क्रॉस वोटिंग का डर सता रहा था. मतदान शुरू होते ही भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी और मंगल पांडेय ने कमान संभल ली थी. सभी विधायकों पर कड़ी निगाह बनाए हुए थे. उधर बीजेपी के विधायक संजय सरावगी ने सबसे पहले वोट गिराकर पहले वोटर बनें.

गौलतलब हो कि सभी को पता था कि वोट कहां गिराना है. फिर भी इस बात की चिंता थी कि कहीं वोटिंग में कुछ गड़बड़ न हो जाए. सभी दलों के वरिष्ठ नेता पोस्ट संभाले हुए थे. अब रिजल्ट देखना है.

यह भी पढ़ें-

CM नीतीश के साथ बच्चे अच्छे नहीं लगते, इस्तीफा दें तेजस्वी वरना होंगे बर्खास्त
अब अखिलेश यादव की सांसद पत्नी की जांच में जुटीं सरकारी एजेंसियां

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*