निर्भय सिंह के घर पहुंचे JDU नेता छोटू सिंह, परिजनों को दी सांत्वना

लाइव सिटीज डेस्कः बिहटा में हुए सिनेमा हॉल मालिक के मर्डर के बाद से उनके परिजनों से लोगों के मिलने का सिलसिला जारी है. राजनीतिक नेता भी निर्भय सिंह के आवास पर पहुंचने लगे हैं. उनके परिवार वालों को सांत्वना देने के लिए लोगों का तांता लगा हुआ है.

इसी कड़ी में आज मंगलवार को निर्भय सिंह के परिवार से जदयू के कई नेता बिहटा पहुंचे. नेताओं में प्रदेश जदयू कार्यकारिणी के सदस्य अरविंद सिंह उर्फ छोटू सिंह के साथ-साथ दुर्गा प्रताप सिंह, साधू शर्मा और रोहित सिंह शामिल रहे. छोटू सिंह ने निर्भय सिंह के पिता से मिलकर बात की. उन्हें इस दुख की घड़ी में सब्र रखने को कहा. सांत्वना दी सबने. छोटू सिंह ने निर्भय सिंह के पिता उदय सिंह के साथ 1 घंटे तक बातचीत की.

इससे पहले सोमवार को निर्भय सिंह के परिजनों से मिलने मंत्री रामकृपाल यादव, जेडीयू नेता श्याम रजक, विधान पार्षद नीरज कुमार, पूर्व मंत्री महाचंद्र प्रसाद सिंह, पूर्व विधायक रामजन्म शर्मा, अनिल कुमार समेत अन्य पहुंचे.

आज भी बंद रहीं दुकानें

उधर सिनेमा हॉल मालिक की हत्या के विरोध में आज भी बिहटा में दुकानें बंद रहीं. हजारों लोगों ने उनके चित्र पर श्रद्धांजलि अर्पित कर सोमवार शाम को कैंडल मार्च निकाला. श्रद्धांजलि सभा में व्यवसायियों ने कहा कि सरेआम हुई हत्या से सभी व्यवसायी भयभीत हैं.

व्यवसायियों सहित क्षेत्रवासियों ने अपराधियों को फांसी दिलाने की मांग की. बता दें कि बिहटा में सोमवार को भी एक भी दुकान का शटर नहीं खुला. करोड़ों का कारोबार प्रभावित हुआ.

बता दें कि इस हत्याकांड में पटना पुलिस ने मुख्य आरोपी गोलू समेत महाकाल गैंग के 7 बदमाशों को गिरफ्तार किया है. हालांकि निर्भय सिंह की हत्या करने वाले पांचो शूटर पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं. मालूम हो कि शुक्रवार को बिहटा में बदमाशों ने निर्भय सिंह की बीच सड़क गोली मारकर हत्या कर दी थी.

यह भी पढ़ें-

वीडियो : आखिर पकड़ा गया महाकाल गैंग का शातिर गोलू और उसके साथी, बिहटा हत्याकांड में थे शामिल
Golden Opportunity : पटना एयरपोर्ट के पास 1 करोड़ का लग्‍जरी फ्लैट, बुकिंग चालू है

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*