मांझी ने कह दी मन की बात – मेरे बेटे को भी मिलना चाहिए चांस, वो भी पढ़ा-लिखा है

jitanram-manjhi
जीतनराम मांझी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्कः पटना में पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने अपने दिल की बात कह दी है. एनडीए का हिस्सा होने के बावजूद उनकी पार्टी से किसी को केंद्र या राज्य में मंत्री पद तो नहीं मिला, लेकिन अब उनकी इच्छा क्या है, उन्होंने मीडिया के सामने रख दिया. बता दें कि जीतन राम मांझी ने कहा है कि मेरे बेटे को भी चांस मिलना चाहिए.

जीतन राम मांझी ने अपने बेटे को मंत्री बनाने की वकालत करते हुए कहा कि मेरा बेटा पढ़ा लिखा है और उसे मौका मिलना चाहिए. इसके अलावा उन्होंने कहा कि बिहार में जो आपराधिक घटनाएं हो रही हैं वो सिर्फ सरकार को बदनाम करने की साजिश है. यह ज्यादा दिनों तक नहीं चलने वाला.

जीतनराम मांझी ने बिहार के पहले मुख्यमंत्री और स्वतंत्रता सेनानी श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न देने की मांग का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न दिया जाये. इसके लिए बिहार सरकार श्रीकृष्ण सिंह का नाम केंद्र को भेजे और इस संबंध में वो एक डेलिगेशन के साथ सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात भी करेंगे.

इस मौके पर पूर्व सीएम ने कहा कि अगले साल आठ अप्रैल को गांधी मैदान में रैली भी करेंगे. रैली को लेकर छठ के बाद सभी औपचारिकता पूरी की जाएगी. मालूम हो कि सूबे में एनडीए सरकार में जदयू, बीजेपी और एलजेपी के सदस्य शामिल हैं. लेकिन रालोसपा और मांझी की पार्टी हम को अभी भी मंत्रिमंडल में जगह को इंतजार है. कहीं न कहीं इसी को लेकर अब मांझी अपने बेटे को मंत्री बनाए जाने की वकालत कर रहे हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*