अमरनाथ बस हादसा : घटना स्थल पर पहुंचे सैकड़ों मुसलमान, बचाई कई यात्रियों की जान

yatra

लाइव सिटीज डेस्क : पिछले सोमवार को अमरनाथ यात्रियों हुए आतंकी हमले में 8 श्रद्धालुओं की मौत हुई. अब इसके बाद रविवार को जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में अमरनाथ यात्रियों को लेकर जा रही बस जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग से फिसलकर खाई में गिर गई, जिससे 17 अमरनाथ यात्रियों की मौत हो गई और 29 लोग घायल हो गए. अधिकारियों ने बताया कि मृतकों में दो महिलाएं भी शामिल हैं. दुर्घटना में मारे गए श्रद्धालु उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, असम, हरियाणा और मध्य प्रदेश के रहने वाले थे.

इन दोनों घटनाओं के बीच एक अच्छा एहसास कराने वाली खबर ये है कि जब बस हादसे का शिकार हुई तो मदद के लिए घटनास्थल पर सैकड़ों मुस्लिम पहुंचे. सैकड़ों मुसलमानों ने लगभग एक दर्जन तीर्थ यात्रियों का जीवन बचाया.

सांप्रदायिक सौहार्द और कश्मीरियत की भावना दिखाते हुए एक गैर सरकारी संगठन जिसमें ज्यादातर मुस्लिम स्वयंसेवक थे, घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचे. रामबन-बनिहाल क्षेत्र में ये एनजीओ सड़क हादसे के पीड़ितों की मदद के लिए आगे आता है. हालांकि इस एनजीओं से जुड़े सदस्यों का कहना है कि उन्होंने बचाव कार्यों के लिए आवश्यक उपकरणों की मांग की है, जिसे अभी तक मंजूर नहीं किया गया है.

yatra

गौरतलब है कि इस साल अमरनाथ यात्रा को प्रभावित करने वाली यह दूसरी घटना है. इससे पहले 10 जुलाई को आतंकवादियों ने एक बस पर हमला किया था जिसमें आठ तीर्थयात्रियों की मौत हो गई थी. हालांकि उस हमले में भी बस ड्राईवर सलीम शेख की सूझबूझ से कई यात्रियों की जान बच गई थी.

यह भी पढ़ें – अमरनाथ यात्रियों से भरी बस खाई में गिरी, 16 श्रद्धालुओं की मौत, 35 जख्मी
अमरनाथ बस हादसे में बिहार के 4 श्रद्धालुओं की मौत, 5 जख्मी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*