मुजफ्फरपुर में HIV पीड़ित महिला का डॉक्टरों ने कर दिया ऑपरेशन, मचा बवाल

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था की लापरवाही के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. अस्पताल में शवों के साथ हो रहे अमानवीय घटनाओं के मामले हर रोज ही सामने आ रहे हैं. इसी बीच एक नया मामला सामने आया है मुजफ्फरपुर से. बताया जा रहा है कि एक एचआईवी पीड़ित महिला का ऑपरेशन कर दिया गया है. घटना के बाद से अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है.

मामला मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच का है. बताया जा रहा है कि मंगलवार की शाम एचआईवी पीड़ित प्रसूता का ऑपरेशन अस्पताल की गलत पैथोलॉजी रिपोर्ट के कारण कर दिया गया. प्रसव के बाद महिला के एचआईवी पॉजिटिव होने की बात सामने आई. घटना के बाद डॉक्टर सहित पूरी टीम के होश उड़ गए. अस्पताल में अफरातफरी मच गई.

महिला के ऑपरेशन में प्रयुक्त पांच सेट इंस्ट्रूमेंट बेकार हो गए. उसे स्ट्रलाइज करने में दो घंटे लग गए. इस घटना से अस्पताल की पैथोलॉजी जांच रिपोर्ट पर सवाल खड़े हो गए. जानकारी के मुताबिक मुशहरी प्रखंड की एक महिला करीब डेढ़ वर्ष से एसकेएमसीएच से ही एचआईवी का इलाज करा रही थी. मंगलवार की दोपहर करीब डेढ़ बजे के करीब प्रसव पीड़ा होने पर उसे अस्पताल लाया गया था. डॉक्टर ने ऑपरेशन कर उसका प्रसव कराने की बात कही. इस क्रम में महिला की पैथोलॉजी जांच कराई गई.

एचआईवी निगेटिव की रिपोर्ट आने के बाद डॉक्टर चंचल की यूनिट में महिला का ऑपरेशन किया गया. महिला ने पुत्र को जन्म दिया. बच्चा होने के बाद महिला के साथ आई आशा ने बताया कि वह एचआईवी पॉजिटिव है. साक्ष्य के रूप में उसने कागजात दिखाए जिसमें 5/5/16 से उसके एचआईवी का इलाज एसकेएमसीएच सें चलने की बात थी. यह जानकर डॉक्टर व प्रसव कराने वाली टीम के हाथ-पांव फूल गए.

अस्पताल प्रशासन की ओर से मरीज के परिजनों को भी फटकार लगाई गई. इसके बाद सीनियर डॉक्टर के निर्देश पर उपकरण को स्ट्रलाइज किया गया. वहीं इस मामले में अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. सुनील शाही ने बताया कि परिजन और आशा ने मरीज के एचआईवी होने की बात छुपाई है. इसके साथ ही उन्होंने आशा पर कार्रवाई की अनुशंसा की भी बात कही. साथ ही टीम गठित कर मामले की जांच कराने की भी बात कही.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*