शराब का सप्लायर निकला RPF जवान, बैरक में छिपाकर रखता था स्टॉक

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार में शराबबंदी कानून की धज्जियां खुद पुलिसवाले ही उड़ा रहे हैं. अभी दरभंगा में एएसआई के शराब पीने और हंगामा मचाने का मामला ठंडा नहीं हुआ था कि एक और मामला सामने आ गया. बताया जा रहा है कि पटना जिले के मोकामा में जीआरपी और आरपीएफ की ओर से बैरक में की गयी छापेमारी में देशी शराब के साथ एक जवान को गिरफ्तार किया गया है.

जानकारी के मुताबिक बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बाद यह पहला मौका है, जब आरपीएफ जवानों के बैरक से शराब बरामद हुई है. बताया जा रहा है कि छापेमारी के दौरान जवान अमित कुमार के बिस्तर के नीचे से 350 देशी शराब के पाउच बरामद किये गये हैं. राजकीय रेल पुलिस ने फिलहाल जवान को गिरफ्तार कर लिया है. घटना के बारे में मोकामा जीआरपी के प्रभारी शाहिद हुसैन ने इसकी पुष्टि की है.

बताया जा रहा है कि आरपीएफ जवान अमित कुमार रात्रि गश्ती के दौरान ट्रेनों की तलाशी लिया करता था. तलाशी के दौरान जब उसे शराब मिलती थी, तो वह उसकी सूचना अधिकारियों को देने की जगह अपने पास रख लेता था और बाद में शराब कारोबारियों से संपर्क कर उन्हें बेच देता था.

इस मामले में आरपीएफ इंस्पेक्टर ने बताया कि आरपीएफ जवान ने गलती की है तथा उसे सजा भुगतनी ही होगी. उन्होंने बताया कि यदि उनके जवान को ट्रेनों में तलाशी के दौरान शराब मिला था तो बिहार शराबबंदी कानून के तहत शराब की जानकारी आरपीएफ थाना या जीआरपी को देनी चाहिए थी. लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. आरपीएफ अधिकारियों को बताने के बजाय वह शराब को अपने बैरक में लेकर चला गया था. लिहाजा उसके ऊपर कानून के अनुसार कार्रवाई की गयी है.

यह भी पढ़ें-

निर्भय सिंह के परिजनों से मिलने बिहटा पहुंचे पप्पू यादव, बांटा दर्द

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*