फिर मिली मोहलत : गुरुवार तक गिरफ्तार नहीं होंगे रेयान ग्रुप के मालिक

लाइव सिटीज डेस्क : प्रद्युम्न हत्याकांड को लेकर इन दिनों रेयान स्कूल से लेकर उसके मालिक कठघरे में हैं. रेयान ग्रुप के मालिक पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है. लेकिन तत्काल उन्हें राहत मिल गयी है. गुरुवार तक उनकी गिरफ्तारी पर बांबे हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है. हाईकोर्ट ने उनकी ट्रांजिट अग्रिम जमानत पर बुधवार को सुनवाई की.

बांबे हाईकोर्ट में बुधवार को रेयान ग्रुप के मालिक के खिलाफ प्रद्युम्न हत्याकांड को लेकर सुनवाई हुई. रेयान ग्रुप के सीइओ रेयान पिंटो और उनके पिता ऑगस्टिन पिंटो और मां ग्रेस पिंटो की अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्हें गुरुवार तक के लिए राहत दे दी है. इससे पहले मंगलवार को भी हाइकोर्ट ने बुधवार तक के लिए राहत दी थी. अब एक बार फिर सुनवाई हुई और अब गुरुवार तक के लिए राहत दे दी है.

बता दें कि बिहार के मधुबनी निवासी प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने रेयान ग्रुप के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका का विरोध किया था. न्यायमूर्ति अजय गडकरी के समक्ष बुधवार को जब ये याचिकाएं सुनवाई के लिए आयीं, तो वकील सुशील टेकरीवाल ने कोर्ट को बताया कि प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर जमानत याचिकाओं में हस्तक्षेप कर उनका विरोध करने के लिए अर्जी दाखिल कर रहे हैं. टेकरीवाल ने कहा कि अर्जी हाईकोर्ट की रजिस्ट्री में दाखिल की जायेगी.

प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि वे पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हैं. अभी तक इस सवाल का जवाब नहीं मिला है कि बस कंडक्टर के पास चाकू कहां से आया. वह बाथरूम में चाकू साफ करने क्यों गया था. इस हत्याकांड की जांच कर रही गुरुग्राम पुलिस की एक टीम मुंबई पहुंची हुई है. रेयान ग्रुप के मुख्यालय पर पुलिस की जांच जारी है.

गौरतलब है कि गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को सात साल के बच्चे प्रद्युम्न की हत्या हो गयी थी. हत्या का आरोप बस कंडक्टर पर लगा. उसके बाद स्कूल के बाहर प्रद्युम्न के माता-पिता के साथ-साथ बाकी पेरेंट्स ने भी स्कूल के बाहर हंगामा किया. हंगामा कर रहे लोगों का कहना है कि कंडक्टर को फंसाया जा रहा है. पिछले दिनों पेरेंट्स के साथ बिहार के मधेपुरा सांसद पप्पू यादव भी प्रदर्शन में शामिल हुए थे. वहीं रेयान ग्रुप के लीगल हेड फ्रांसिस थॉमस और एचआर हेड जेयस थॉमस को गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें : प्रद्युम्न का यौन शोषण नहीं हुआ, ज्यादा खून बहने से हुई मौत  
गंगा किनारे पंचतत्व में विलीन हो गयीं श्यामा सिंह, अमर रहें के लगते रहे नारे 

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*