बिहार में जल्द निकलने वाली है शिक्षकों की बंपर वैकेंसी, जारी हो गया है नोटिफिकेशन

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार समेत देश के 11 राज्यों के इंजीनियरिंग कॉलेजों में तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए शिक्षकों के खाली 1221 पदों को भरा जाएगा. इसमें असम, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर और अंडमान निकोबार के इंजीनियरिंग कॉलेजों को शामिल किया गया है. टेक्निकल एजुकेशन क्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम (टीईक्यूआईपी-III) के तहत कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर की बहाली होगी.

इसको लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय की यूनिट नेशनल प्रोजेक्ट इंप्लीमेंटेशन यूनिट (एनपीयूआई) ने नोटिफिकेशन जारी किया है. इसके तहत इंजीनियरिंग कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर बनने की अर्हता रखने वाले आवेदक 15 नवंबर तक आवेदन कर सकते हैं. तीन वर्ष तक चलने वाले इस प्रोजेक्ट पीरियड के लिए चुने जाने वाले शिक्षकों को प्रति माह 70 हजार रुपए मिलेंगे. यह पद पूरी तरह कांट्रैक्ट पर आधारित होगा. इसके लिए आवेदक एनपीआईयू की वेबसाइट पर अप्लाई कर सकते हैं.

नियुक्ति की पूरी प्रक्रिया केंद्रीय स्तर पर ही होगी. इसमें राज्य सरकार की कोई भूमिका नहीं होगी. मुजफ्फरपुर एमआईटी के प्राचार्य डॉ. जगदानंद झा ने बताया कि टेक्निकल एजुकेशन की गुणवत्ता को सुधारने के लिए यह कदम उठाया गया है. इसके लिए सभी कॉलेजों से शिक्षकों के खाली पद की जानकारी मांगी गई थी.

यहां होगा इंटरव्यू-

एनआईटी इलाहाबाद, एनआईटी वारंगल, एनआईटी भोपाल, एनआईटी जमशेदपुर, एनआईटी नागपुर, एनआईटी सूरतकल, एनआईटी कालिकट, एनआईटी राउरकेला, एनआईटी जयपुर, एनआईटी कुरुक्षेत्र, एनआईटी सिलचर, एनआईटी हमीरपुर, एनआईटी जालंधर, एनआईटी दुर्गापुर, एनआईटी श्रीनगर, एनआईटी सूरत, एनआईटी त्रिची, एनआईटी पटना, एनआईटी रायपुर और एनआईटी अगरतला.

टीईक्यू आईपी के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए अप्लाई करने वाले आवेदकों के इंटरव्यू की जिम्मेदारी देश के 20 एनआईटी को सौंपा गया है. 11-15 दिसंबर तक आवेदकों का इंटरव्यू होगा. इसमें जगह चुनने की आजादी होगी. इंटरव्यू में एनआईटी के निदेशक समन्वयक, संबंधित विषय के विभागाध्यक्ष, राज्य के शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि और इंडस्ट्री एक्सपर्ट होंगे. पूरे इंटरव्यू की वीडियोग्राफी होगी. इसे 7 दिनों के भीतर एनपीआईयू को भेजना होगा. इसमें 15 मिनट का पर्सनल इंटरव्यू राउंड होगा. प्रेजेंटेशन पर 10 अंक, विषय की जानकारी पर 20 अंक और ओवरऑल 10 अंक निर्धारित होंगे.

बिहार के सात कॉलेजों को मिलेंगे 206 शिक्षक

बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों को 206 शिक्षक मिलेंगे. इसमें सिविल, मेकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स से लेकर अलाइड सब्जेक्ट के लिए खाली पद शामिल हैं. इसमें एमआईटी में 31, भागलपुर कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में 28, मोतिहारी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में 13, गया कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में 36, दरभंगा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में 32, लोकनायक जय प्रकाश इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, छपरा में 36, नालंदा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में 30 शिक्षकों की नियुक्ति होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*