इस्‍तीफे/बर्खास्‍तगी की हड़बड़ी खत्‍म, सीबीआई की अगली कार्रवाई का इंतजार होगा !

पटना : राष्‍ट्रपति चुनाव में बिहार विधान सभा के सभी उपस्थित सदस्‍यों ( भाजपा के एक बीमार विधायक को छोड़ ) ने वोट दे दिया है . क्रॉस वोटिंग के लिए किसी भी पार्टी ने विशेष प्रयास नहीं किया था,फिर भी किसी ने कर दिया हो,तो नतीजे के बाद मालूम होगा . पर,वोट खत्‍म होते ही तेजस्‍वी यादव के बारे में नीतीश कुमार के अंतिम फैसले को लेकर जो तूफानी कयास लगाये जा रहे थे,वह सुस्‍त होती दिख रही है . लालू प्रसाद फिर सिद्ध करते दिख रहे हैं कि उनके मामले में ‘सब धान 22 पसेरी नहीं’ होता .

तेजस्‍वी के बारे में बगैर महत्‍व वाले नेताओं-विधायकों को छोड़ दें,तो कोई टीका-टिप्‍पणी करने को अब तैयार नहीं हो रहा . नीतीश कुमार भाजपा के साथ चले ही जाने का निर्णय नहीं कर पाए हैं . संकेत साफ है, जदयू के प्रवक्‍ता विधान पार्षद संजय सिंह ने सुशील कुमार मोदी पर फिर से हमला बोलना शुरु कर दिया है . दरअसल, नीतीश कुमार यह जानते हैं कि तेजस्‍वी यादव की बर्खास्‍तगी के बाद बिना भाजपा वे सरकार नहीं चला पायेंगे . पर, राजनीतिक तौर पर अभी भाजपा के साथ चले जाने का सही समय नहीं आया है . सोनिया गांधी से हुई बातचीत का भरोसा भी है . 

नीतीश कुमार तेजस्‍वी यादव को बर्खास्‍त कर  देश में नजीर जरुर बन जाते . लेकिन, महज एफआईआर के आधार पर कार्रवाई आगे किसके सामने कौन-सा झंझट पैदा कर देती, कोई नहीं जानता था . सोशल मीडिया में यह बहस तेजी छिड़ी है कि जब मध्‍य प्रदेश के मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा का चुनाव ही कदाचार के कारण रद कर दिया गया, तो तेजस्‍वी से इस्‍तीफा मांग रही भाजपा पहले मध्‍य प्रदेश में नरोत्‍तम मिश्रा को मंत्री पद से हटाकर क्‍यों नहीं उदाहरण पेश कर दे रही है . 

तेजस्‍वी के इस्‍तीफे/बर्खास्‍तगी को लेकर अचानक बहुत घट गई सरगर्मी इस बात के संकेत हैं कि अब तेजस्‍वी यादव के खिलाफ सीबीआई की अगली कार्रवाई का इंतजार किया जाएगा . गिरफ्तारी/चार्जशीट होने की स्थिति में तुरंत इस्‍तीफा हो जाएगा . इस फार्मूले के लिए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद भी तैयार बताये जा रहे हैं . सरगर्मी कम होने की वजह के पीछे लालू प्रसाद के पक्ष में शरद यादव की तेजी को भी एक बड़ा कारण बताया जा रहा है . अंत में,यह याद रखें कि नीतीश कुमार के मन को पढ़ पाना किसी के लिए भी नामुमकिन रहा है . सो,वे अंतिम निर्णय के रुप में क्‍या कर देंगे,कोई नहीं जानता .

यह भी पढ़ें- जदयू का हमला : बेचैन रहते हैं सुशील मोदी, विधवा विलाप में माहिर हैं बीजेपी नेता
लालू के बचाव में केंद्र को शरद का आईना, कहा- एक्शन टारगेटेड नहीं सब पर हो
‘CM नीतीश के साथ बच्चे अच्छे नहीं लगते, इस्तीफा दें तेजस्वी वरना होंगे बर्खास्त

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*