ये हैं भारत के बड़े-बड़े राजपरिवार, अपनी राजसी ठाठ-बाट के लिए जाने जाते हैं

लाइव सिटीज डेस्क : देश में लोकतंत्र की शुरुआत के साथ ही राजशाही का युग समाप्त हो चुका है. ऐसे समाज के लोग और ऐसा रहन सहन हमें आज कल टीवी सीरियल या फिर फिल्मों में ही दखने को मिलता है. कुछ जगह आज भी ऐसे बड़े-बड़े राजघराने अपनी राजसी ठाठ-बाट के लिए जाने जाते हैं. ज्यादातर राजस्थान में ऐसे रहने वाले लोग मिलते हैं. और राजस्थान में ही नहीं बल्कि देश के दूसरे राजवंशों के पास भी ऐसी करोड़ों की प्रोपर्टी हैं.

1. मेवाड़ राजघराना

राजस्थान के मेवाड़ राजघराने के 76वें संरक्षक अरविंद सिंह महंगी करों के शौकीन हैं. इस राजघराने का राजस्थान में एचआरएच ग्रुप ऑफ होटल्स के नाम से होटल का बिजनेस हैं. इस ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर खुद अरविंद सिंह मेवाड़ हैंइनका कुल 1200 लोगों का स्टाफ हैं.

2. अलसीसर की रॉयल फैमिली

राजस्थान के असलीसर राजघराने के मुखिया अभिमन्यु सिंह हैं. इन्हें खेत्री का राजा भी कहा जाता हैं. इस राजघराने की जयपुर और रणथंबौर में कई हवेलियां हैं. जयपुर वाली अलसीसर हवेली एक हेरिटेज होटल में बदल गई हैं.

3. राजकोट का शाही परिवार

इस राजघराने के युवराज मंधातासिन जडेजा राजकोट के राजघराने के मुखिया हैं. पेशे से बिजनेसमेन युवराज ने बायो फ्यूल डेवलपमेंट और हायड्रोपावर प्लांट में 100 करोड़ रुपए का इन्वेस्ट किया है. इसके अलावा राजघराने ने यूएस पिज्जा के साथ पार्टनरशिप भी की हैं ताकि गुजरात में पिज्जा स्टोर खोले जाएं.

4. राज्यश्री कुमारी

इस राजपरिवार की वारिस राज्यश्री कुमारी शूटिंग में अर्जुन अवोर्ड जीत चुकीं हैं. राजस्थान के की चैरिटबल ट्रस्ट की चेयरपर्सन भी हैं. वहीँ शाही का लालगद महल के नाम से एक हैरिटेज होटल भी हैं. इन हैरिटेज होटल को 1902 से 1906 साल के बीच बनाया गया था.

5. बड़ौदा का लक्ष्मी निवास महल

समरजीत सिंह गायकवाड़ बड़ौदा राजघराने के मुकिया हैं. इनके पास 600 एकड़ और 187 कमरों का लक्ष्मी निवास नाम का महल हैं. इस महल को 1890 में महाराजा सायाजी राव तीसरे ने बनाया था.

6. यदुवीर राज कृष्णदत्ता वाडियार

यदुवीर राज कृष्णदत्ता वाडियार वडियार राजवंश के मुखिया हैं. 10 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की प्रोपर्टी वाले इस राजवंश के पास 15 लग्जरी कर का कलेक्शन हैं. इसके इलावा इनके पास कई महंगी घड़ीयों का भी कलेक्शन हैं.

7. ज्योतिरादित्य सिंधिया

पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भारत के एक शाही मराठा वंश के वंशज हैं एक आरटीआई में खुलासा हुआ था की ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास 24 करोड़ रुपए के गहने हैं जो उन्हें पुश्तैनी रूप से मिले हैं सिंधिया परिवार के पास 25 से अधिक कंपनियों के शेयर हैं।

8.जोधपुर का उमेद पैलेस

जोधपुर का शाही परिवार के पास उम्म्दे भवन के नाम से दुनिया का सबसे बड़ा प्राइवेट रेजीडेंस हैं. इसमें 347 कमरे हैं. इनके एक हिस्से को होटल बना दिया है. इसे मैनेज करने के लिए शाही परिवार ने ताज ग्रुप के साथ पार्टनरशिप की हैं. उम्म्दे भवन को 1929 में अकाल के समय तोडा गया ताकि इस दोबारा बनाकर लोगों को रोजगार दिया जाए.

9. प्रिंस मानवेंद्र सिंह

गुजरात का यह रॉयल घराना काफी समृद्ध हैं. प्रिंस मानवेंद्र अपनी लग्जीरियस लाइफ के लिए जाने जाते हैं. गौरतलब है कि प्रिंस मानवेंद्र सिंह समलैंगिक वृद्धाश्रम बना रहे हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*