भोजपुरी मूवी किंग रविकिशन की न तो जिंदगी झंड है, न ही जरा भी घमंड है

रवि किशन शुक्ला भोजपुरी फिल्मों के अमिताभ बच्चन कहे जाते हैं. नहीं..नहीं.. इन्हें अमिताभ बच्चन कहना ठीक नहीं होगा. ये तो ​कुछ अलग इंसान हैं. शायद बच्चन साहब के अंदर भी इतने कैरेक्टर नहीं बसते होंगे, जितने कैरेक्टर्स को रवि किशन ने जिया है! मनोरंजन के अनोखे कॉकटेल हैं रविकिशन जिनके अभिनय का नशा इनके चाहने वालों के सिर चढ़कर बोलता है. रवि ने टीवी में काम किया, फिल्मों में धमाल मचाया. शाहरूख से लेकर सलमान तक सबके साथ काम किया. सबको अपनी एक्टिंग का दीवाना बनाया. या यूं कहें कि बाॅलीवुड के कई स्टार उनके संग एक्टिंग करते हैं.

 

जिंदगी झंड बा, फिर भी घमंड बा..
वह हर वक्त खुद की ही रची लाइन दोहराते फिरते हैं, ‘जिंदगी झंड बा, फिर भी घंमड बा.’ पता नहीं ऐसा क्यों? दरअसल न तो उनकी जिंदगी झंड है और जहां तक घमंड की बात है तो यह क्या चीज है, शायद इस बारे में उन्हें पता भी नहीं. घमंड से दूर—दूर तक कोई वास्ता नहीं. इस आदमी का बस एक ही धर्म है. वह है मनोरंजन, मनोरंजन और सिर्फ मनोरंजन. इसे वह न सिर्फ बखूबी निभाते हैं, बल्कि पूरी तरह से मानते भी हैं.

पिता का डर, बेटा कहीं यौनकर्मी न बन जाए
रवि किशन का जन्म जौनपुर के पास एक छोटे से गांव में हुआ था. शुरुआत में गांव की नौटंकी में फिल्म स्टार्स की मिमिक्री कर लोगों का मनोरंजन किया करते थे. नाटक मंडली में सीता का कैरेक्टर रवि से बेहतर कोई नहीं कर पाता था. महिलाओं के कैरेक्टर में वह एकदम से रम जाते थे. यह बात उनके पिताजी को फूटी आंख न सुहाता था. उन्हें डर था कि उनका रवि महिलाओं का किरदार निभाते-निभाते कहीं यौनकर्मी न बन जाए. रवि को उनके पिताजी से कई बार मार पड़ी. रवि इस बात को मानते हैं कि अगर उस वक्त पिताजी ने उनकी पिटाई नहीं की होती, तो आज वह इस मुकाम पर नहीं होते.

मां ने कहा, बेटा एक्टिंग छोड़ दो या घर
हालांकि रवि के मां-पिताजी ने उनकी एक्टिंग की रूचि को कभी भी प्रोत्साहित नहीं किया. एक दिन तो उनकी मां ने कह दिया कि ‘बेटा या तो एक्टिंग छोड़ दो या घर.’ फिर क्या था, रवि ने घर छोड़ दिया. घर से निकलकर वह जो पहुंचे मायानगरी मुंबई. मुंबई में उनके शुरुआती दिन थोड़े तकलीफ वाले रहे. लेकिन समय के साथ काम मिलने लगा. पहली हिंदी फिल्म ‘पीतांबर’ थी. फिर भोजपुरी फिल्मों को साइन करने लगे. और आज भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार कहे जाते हैं. रवि किशन के नाम आज 400 से ज्यादा फिल्में हैं.

महादेव के पक्के वाले भक्त हैं रवि किशन
अपनी बातों से मोह लेने वाले इंसान रवि किशन की हर बात में महादेव बसते हैं. शिव के पक्के भक्त है. हर बात महादेव से स्टार्ट और उसकी समाप्ति भी महादेव पर ही होती है. शख्सियत इतनी मजेदार है कि उनके साथ आप कभी बोरियत फील नहीं करेंगे.

कभी थे लड़कीबाज, आज हैं सुपरस्टार
रवि किशन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वो लड़कीबाज थे. पिताजी से इसके लिए खूब मार पड़ी. उनके पिता समझाया करते थे कि ‘अपनी ऊर्जा अच्छे कामों के लिए बचाकर रखो… लड़कियों के पीछे मत भागो. हमेशा एक ही औरत के बनकर रहो..’ रवि कहते हैं कि आज वह अपने पिता की नसीहतों की वजह से ही अपनी ज़िंदगी में संभल पाए.

गुस्से में जो बोला वह बन गया फेमस डायलॉग
सुनाने को कई किस्से हैं. जैसे ‘जिंदगी झंड बा, फिर भी घमंड बा,’ इस प्रसिद्ध डायलॉग के रचयिता खुद रवि किशन हैं. रवि बताते है कि इस फेमस डायलॉग के पीछे कहानी है. दरअसल जब वो टीवी सीरीज बिग बाॅस के पहले सीजन के प्रतिभागी थे, तब उन्होंने यह डायलॉग किसी कंटेस्टेंट पर गुस्से में कहा था. पर जब वह घर से बाहर आए, तब तक यह डायलॉग बच्चे-बच्चे के जुबान पर चढ़ चुका था. और लोग इसे सुनना पसंद करने लगे.

दिवाली पर लेकर आ रहे है ‘काशी अमरनाथ’
खैर, रवि किशन से जुड़े किस्से तो इतने हैं कि लिखने लगूं तो किताब ही लिख दी जाए. पर आज बात उनकी फिल्म काशी अमरनाथ की, जो 18 अक्टूबर यानि दिवाली के दिन रिलीज हो रही है. ‘काशी अमरनाथ’ का निर्माण प्रियंका चोपड़ा की फ़िल्म निर्माण कंपनी ‘पर्पल पेबल पिक्चर्स’ व ‘रोज क्वार्ट्ज़ एंटरटेनमेंट’ के बैनर तले किया गया है.
इस फिल्म् में मेगा स्टार रवि किशन, जुबली स्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ,’ अभिनेत्री आम्रपाली दुबे और सपना गिल मुख्य भूमिका में हैं. सपना गिल ‘काशी अमरनाथ’ के जरिए भोजपुरिया पर्दे पर डेब्यू कर रही हैं. इस फिल्म पर ‘काशी अमरनाथ’ की टीम ने लाइव सिटीज से बात की.

वीडियो देखें..

 

इसे भी पढ़ें

कब तक रहेंगे किराये में : कीमतें बढ़ने के पहले खरीदें 9 लाख का फ्लैट, ऑफर में Gold Coin भी

iPhone 8 पटना को सबसे पहले गिफ्ट करेगा चांद बिहारी ज्वैलर्स, सोने के सिक्के तो फ्री हैं ही

धनतेरस पर बेस्ट आॅफर दे रहे हैं हीरा-पन्ना ज्वैलर्स, Turkish जूलरी के साथ Gold Coin भी फ्री

स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry

अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*