पू. चंपारण के 2 लोगों के हत्यारे को नेपाल पुलिस ने गोली मार दबोचा

रक्सौलः नेपाल पुलिस ने पूर्वी चंपारण के दो युवकों की गला रेत कर हत्या करने वाले अपराधी को भागते वक़्त गोली मार दी. गोली उसके बाएं पैर में लगी, फिर भी उसे पकड़ लिया गया. इस दौरान उसके सैकड़ों समर्थकों और स्थानीय ग्रामीणों के विरोध का भी सामना करना पड़ा. बावजूद पुलिस हिम्मत नही हारी. अभियान में सीआइबी के अलावा पर्सा और बारा जिला पुलिस की टीम शामिल थी.

रविवार की संध्या पकड़े गए अपराधी ब्रृजकिशोर गिरी को घायल स्थिति में वीरगंज के नारायणी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां बारा जिला के एसपी समेत पर्सा जिला के पुलिस अधिकारी मौजूद हैं. एसपी गोविन्द साह के मुताबिक यह छापेमारी मध्य क्षेत्रीय पुलिस पुलिस कार्यालय, हेटौडा से डीआईजी के निर्देश पर की गयी. ब्रृज किशोर बारा जिला के महागढ़ी माई नगरपालिका के सेमरा तेगछिया का निवासी है. वह हत्या को अंजाम देने के बाद अपने ससुराल पर्सा के बिजबनिया गढ़ैया में रिश्तेदार अजय गिरी के यहां छुप कर रह रहा था.raxaul

 इस अभियान को देख रहे डीएसपी चक्रराज जोशी के मुताबिक गिरफ्तारी के समय जन विरोध के बाद जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी. छ्ह राउंड गोली चलानी पड़ी. खदेड़ कर ब्रृजकिशोर को दबोचा गया. इसी दौरान उसके पैर में गोली लगी. उन्होंने बताया क़ि पिछले माह बारा जिला के हरैया जंगल में दो युवकों की गला रेत कर हत्या कर दी गयी थी. दोनों चाचा-भतीजा थे. दुश्मनीवश पूर्वी चंपारण के आदापुर के लक्ष्मीपुर पोखरिया के दीपक राम (18) और उसके चाचा अरुण राम (28) को फोन कर बुलाया.फिर जंगल में उनकी हत्या कर दी. घटनास्थल से हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद किया गया था. घटना के बाद से ब्रृज किशोर गिरी फरार चल रहा था. इस हत्याकांड के बाद परिजनों के गुहार पर पूर्वी चंपारण पुलिस लगातार नेपाल पुलिस पर दवाब बनाये हुए थी. डीएसपी राकेश कुमार ने भी नेपाल पुलिस से करवाई का आग्रह किया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*