प्रधानमंत्री आवास योजना का पैसा खाने का आरोप, नवगछिया का मामला

नवगछिया: नवगछिया पुलिस जिला सह अनुमंडल अंतर्गत अंचल कार्यालय हो या प्रखंड कार्यालय, सभी जगह सरकारी कर्मचारी योजनाओं का लाभ दिलाने हेतु दलाली का काम करने लगे हैं. जहां दो दिन पूर्व गोपालपुर अंचल कार्यालय के प्रधान लिपिक के खिलाफ एक व्यक्ति ने भ्रष्टाचार का चिट्ठा खोला.

वहीं आज रंगड़ा प्रखंड निवासी रोशन मालाकार ने रंगड़ा प्रखंड में कार्यरत प्रधानमंत्री आवास सहायक शिवशंकर जी के खिलाफ नवगछिया के अनुमंडलाधिकारी डॉ. आदित्य प्रकाश को आवेदन सौंपा है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास सहायक शिवशंकर मुझसे 20 हजार रुपये घूस मांग रहे थे.

मुझे बार-बार धमकाया जा रहा था कि अगर पैसे नहीं दोगे तो योजना से नाम काट देंगे. वहीं इसमें सबसे मजेदार बात यह है कि सहायक के द्वारा जब डरा कर पैसे लिए गए तब इसकी विडियो भी बनाई गई. सहायक लाभार्थी को एकांत में पैसे लेने के लिए ले गए थे. वहीं प्रधानमंत्री आवास सहायक शिवशंकर ने कहा कि ये पैसे प्रखंड विकास पदाधिकारी, नाजिर, कंप्यूटर ऑपरेटर व जिला में एमआईएस लेते हैं.

यहां यह सवाल उठता है कि क्या सरकारी कर्मचारी की यह बात सत्य है? अगर इस योजना का पैसा इन लोगों को ही चढ़ावा चढ़ा दिया जाता है तो गरीब किस योजना से मकान तैयार करेंगे? क्या यह योजना इन अधिकारियों के विकास के लिए तैयार की गई है? जब इस संदर्भ में रंगड़ा के प्रखंड विकास पदाधिकारी से मोबाइल नंबर पर संपर्क किया गया तो उस समय उनका मोबाइल दूसरे कॉल पर व्यस्त आ रहा था.

आपको बता दूं कि रोशन मालाकार को प्रधानमंत्री आवास योजना की पहली किस्त कुछ दिन पूर्व ही मिली थी. जिसके बाद से उनसे बार-बार सहायक के द्वारा घूस के तौर पर पैसा मांगा जा रहा था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*