भागलपुर में निगरानी का कहर, 16 शिक्षकों पर दर्ज हुई प्राथमिकी

naugachia

नवगछिया/भागलपुर: भागलपुर जिला अंतर्गत कई प्रखण्डों में पदस्थापित 16 नियोजित व प्रारंभिक शिक्षकों के खिलाफ निगरानी के इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार सरोज ने जोगसर थाने में प्राथिमिकी दर्ज कराई है. इन सभी पर बीईटीईट सहित अन्य फर्जी प्रमाणपत्र के आधार पर नौकरी करते हुए सरकार को धोखा देने का आरोप है.

निगरानी विभाग ने कई बिन्दुओं पर जांच करने के पश्चात सभी शिक्षकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराया है. हालांकि निगरानी विभाग ने कुल 17 शिक्षकों पर प्राथिमिकी दर्ज कराई है. जिसमें एक शिक्षक धरनीधर राय की मौत हो चुकी है.

जिन शिक्षकों पर प्राथमिकी दर्ज हुई है उनके नाम यहां पढें:

  1. श्याम प्रसाद शर्मा-शाहकुंड के दीनदयाल उत्क्रमिक उच्च विद्यालय में गणित विषय के माध्यमिक शिक्षक हैं.
  2. शशिकला- सबौर के मसाढु मध्य विद्यालय में पदस्थापित हैं.
  3. नीलम कुमारी-बिहपुर प्रखंड अंतर्गत हरिओ में पंचायत शिक्षिका हैं.
  4. तमन्ना खातून-ये भी बिहपुर प्रखंड अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय राईन टोला विक्रमपुर में शिक्षिका हैं.
  5. मोहम्मद गुफरान रजा-ये विक्रमपुर गोलपर में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक हैं.
  6. श्वेता कुमारी-ये बिहपुर प्रखंड के लत्तीपुर हरिजन टोला में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका हैं.
  7. मोहम्मद गुलाम फरीद- ये बिहपुर प्रखंड के भगवतीपुर में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक हैं.
  8. फरीदा खानम- ये बिहपुर प्रखंड के विक्रमपुर दास टोला में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक हैं.
  9. वर्षा रानी- बिहपुर प्रखंड अंतर्गत शेख टोला में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका हैं.
  10. मनोरंजन कुमार राय- बिहपुर प्रखंड अंतर्गत मध्य विद्यालय सोहड़ी में शिक्षक हैं.
  11. प्रवीण कुमार-बिहपुर प्रखंड अंतर्गत मड़वा के मुशहड़ी स्थित प्राथमिक विद्यालय में पंचायत शिक्षक हैं.
  12. गोपाल कुमार मेहता- बिहपुर प्रखंड के हरिओ में प्राथमिक विद्यालय उत्तरवाड़ी में पंचायत शिक्षक हैं.
  13. अर्चना कुमारी- बिहपुर प्रखंड अंतर्गत जमालपुर में प्राथमिक विद्यालय में पंचायत शिक्षिका हैं.
  14. रमण कुमार पासवान- बिहपुर प्रखंड अंतर्गत नन्हकार में प्राथमिक विद्यालय में पंचायत शिक्षक हैं.
  15. मोहम्मद रियाज- बिहपुर के जमालपुर में पंचायत शिक्षक हैं.
  16. मीरा कुमारी- करहरिया पूरब टोला में पंचायत शिक्षिका हैं.

धरनीधर राय-मृत

इन सभी शिक्षकों में 8 महिला हैं. अब प्रश्न ये उभरता है कि बिहपुर प्रखंड में इतने जालसाज शिक्षकों के द्वारा शिक्षा को बढ़ाया जा रहा था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*