‘हम सीबीआई से आये हैं, घर में जितना गहना-कैश है सब निकालिए’

पटना (जुलकर नैन) : पटना सिटी के अगमकुआं थाना के भूतनाथ इलाके में जनता फ्लैट के टीआर 113 में रहने वाले त्रिभुवन साह के मकान में शाम के करीब 5 बजे एक युवक और युवती सीबीआई के अधिकारी बन कर पहुंचे. घर के अंदर घुसे और मौके पर मौजूद साह की पत्नी गीता देवी से कहा कि हम सब सीबीआई से आए हैं और आपके घर को सर्च करना है. यह घटना शाम के 5 बजे की है. यहां पहले ही बता दें कि दोनों फर्जी अधिकारी थे जिन्हें बाद में पकड़ लिया गया.

गीता देवी ने बताया कि मैं घबरा गई और पहले दोनों को घर में बैठाया. जैसे ही मैं अपने पति को फोन करने लगी तो युवती ने मोबाइल छिन लिया और मारा. उसने कहा कि तुम्हारे पति ने 35 लाख रुपया का फ्रॉड किया है. इसके बाद उन्होंने घर का सारा समान और गहना-जेवर और पैसा निकालने को कहा. सारा समान मोबाईल, गहना, एक लाख रुपया जो लॉकर में रखा हुआ था उसे भी इनलोगों ने ले लिया और सारे सामान को एक बैग में बंद कर के जाने लगे. उन्होंने मुझसे कहा कि आप थाने में आइये.

इतने घटनाक्रम के बाद गीता को कुछ शक हुआ और उन्होंने हल्ला मचाना शुरु किया. इतने में आस-पास के लोग इकठ्ठा हो गए. यह देख कर दोनों ने भागने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सके और पकड़ लिये गए. बाद में दोनों को पुलिस के हवाले भी कर दिया गया.

घटना के बारे में अगमकुआ थाना के सब इंस्पेक्टर धनंजय कुमार ने कहा कि इन दोनों के पास से एक आईडी कार्ड भी मिला है जिसपर ‘इंडिया क्राइम रीफ़ोर्म्स ओर्गेनाइजेशन’ लिखा हुआ है. इसकी जाँच की जाएगी. फिलहाल पूछताछ के दौरान एक ने अपना नाम गौतम गोस्वामी बताया है और खुद को कोलकाता का रहने वाला कहा है. पुलिस हर पहलू पर मामले की जाँच कर रही है.

इधर गौतम गोस्वामी (नकली सीबीआई अधिकारी) ने एक दूसरी ही कहानी बताई है. उसके अनुसार त्रिभुवन साव के द्वारा हाजीपुर के शिवशंकर साव को लोन दिया गया था और अब वो कई दिनों से फरार है. त्रिभुवन ने शिवशंकर साव पर हाजीपुर में केस भी किया है. जिसको लेकर आज हम लोग शिवशंकर साव के बारे में त्रिभुवन साव से जानकारी लेने गए थे. गौतम ने कहा कि उनपर सामान और पैसा लेकर भागने का झूठा आरोप लगाया जा रहा है. जब गौतम से आईडी कार्ड के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि ‘इंडिया क्राइम रीफ़ोर्म्स ओर्गेनाइजेशन’ कंपनी पुलिस की कार्रवाई में मदद करती है.

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*