भविष्य के संघर्षों के लिए स्वयं को तैयार करें युवा : अनिल सुलभ

पटना/फुलवारी शरीफ : बेऊर स्थित इंडियन इंस्टीच्युट ऑफ़ हेल्थ एजुकेशन एण्ड रिसर्च में पुराने छात्रों द्वारा आयोजित ‘नवागंतुक समारोह’ का उद्घाटन हुआ. इस दौरान संस्थान के निदेशक-प्रमुख डा. अनिल सुलभ ने कहा कि नए छात्रों के स्वागत के लिए आयोजित होनेवाला यह उत्सव एक उत्साह-बर्द्धक परंपरा है, जिससे न केवल छात्र-छात्राओं के बीच एक सौहार्दपूर्ण संबंध विकसित होते हैं, बल्कि छुपी प्रतिभाओं को भी उन्नयन का अवसर मिलता है.

डा. सुलभ ने कहा कि जिनके हाथों में पावर है, उनकी मनमानी दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है. निजी स्वार्थ, अहंकार और राग-द्वेश की भावना से अधिकारों का चिंताजनक दुरूपयोग हो रहा है. चरित्र-हीनता और भ्रष्टाचार चरम पर है. इससे कोई भी क्षेत्र अछूता नही रहा. ऐसे में आमलोगों के समक्ष कठिनाइयाँ और चुनौतिया सुरसा के मुंह की भांति बढ़ती हीं जा रही है. नई पीढ़ी के सामने दूर-दूर तक संघर्षो के घने बादल दिखाई दे रहे हैं. भविष्य के इन संघर्षों के लिए छात्र-समुदाय को स्वयं को तैयार करना होगा.

इस मौके पर  छात्र-छात्राओं ने गीत, संगीत और नृत्य के कई रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए, जिनका दर्शकों में पूरा आनंद उठाया. बैचलर ऑफ़ फिजियोथेरापी की छात्रा ऐश्वर्या कश्यप को ‘मिस फ्रेशर’ तथा अवनीश कुमार झा को ‘मिस्टर फ्रेशर’ चुना गया.

समारोह में संस्थान के प्रबंध निदेशक आकाश कुमार, प्रशासी अधिकारी सुबेदार मेजर एस.के. झा, डा.खालिद अंजुम खान, डा.राजेश कुमार, डा.नवनीत कुमार, प्रो.तबस्सुम गनी, प्रो. कुमारी पूर्णिमा, प्रो.सरिता कुमार तथा प्रो.रणजीत कुमार ने भी अपने विचार व्यक्त किए. कुमार उमाकान्त, अभिषेक कुमार, मोना कुमार, श्रुति शर्मा, अभिजीत , दीप्ति कुमार तथा ओम प्रकाश भारती आदि वरीय छात्र आयोजन में सक्रिय रहे. मंच का संचालन सौम्या तथा तारिक अजीज ने संयुक्त रूप से किया.

अजीत की रिपोर्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*