बच गई ज्‍वेलरी शॉप, 4 शातिर धराये

पटना (अमित जायसवाल): राजधानी में कब किस दुकान में चोरी हो जाए, इस बात की कोई गारंटी नहीं है.ऐसे ही पूरे पटना के अंदर चोरी की वारदातों में कमी नहीं आ रही है. क्‍योंकि शातिर चोर हर वक्‍़त चोरी की वारदात को अंजाम देने की ताक में लगे रहते हैं.

थाना क्ष्‍ेात्र कोई भी हो, शातिर अपराधियों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्‍हें तो बस चुपके से चोरी कर फरार हो जाने की आदत है. चोरी की एक बड़ी वारदात को शातिर चोरों का गैंग अंजाम देने की फिराक में लगा था. इस बार उनके निशाने पर सोनार टोली का एक ज्‍वेलरी शॉप था. जहां उनकी मंशा लाखों रुपए के ज्‍वेलरी पर हाथ साफ करने की थी. लेकिन कदमकुआं थाने की पुलिस टीम ने अपराधियों के मंशा पर पानी फेर दिया. वारदात को अंजाम देने पहुंचे 4 शातिरों को गिरफ्तार कर लिया. समय पर की गई कार्रवाई से पुलिस टीम ने चोरी की बड़ी वारदात को तो टाला ही, साथ ही ज्‍वेलरी शॉप को भी बचा लिया.

मिला चाभियों का गुच्छा
कदमकुआं थाने की पुलिस टीम गश्ती पर थी. तभी टीम की नजर एक ज्‍़वेलरी शॉप के बाहर खड़े 4 संदिग्धों पर पड़ी. जैसे ही पुलिस वाले अपराधियों के करीब पहुंचे, इनकी हरकतों में बदलाव आ गया. इससे पुलिस टीम का शक और भी बढ़ गया. जब शातिरों के हाथ में चाभी का गुच्छा दिखा तो पुलिस वालो को सारा माजरा समझ में आ गया. फिर क्‍या था सभी को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया गया.
पहले भी जा चुके हैं जेल
जिन शातिरों को पुलिस ने पकड़ा उनमें नंद किशोर, भीम कुमार, दीपक और राजन हैं. कदमकुआं थाने के एसएचओ गुलाम सरवर के अनुसार नंद किशोर शातिर अपराधी है. दीघा इलाके का रहने वाला शातिर पहले भी जेल की हवा खा चुका है. इसी तरह राजन गांधी मैदान थाना क्षेत्र का रहने वाला है. लेकिन चोरी के मामले में ही वो कदमकुआं थाना से जेल जा चुका है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*