छुड़ाए गए 7 बाल मजदूर, सिकंदराबाद एक्सप्रेस से हो रही थी तस्करी, दलाल गिरफ्तार

पटना(अजीत) : बिहार में मानव तस्करी का सिलसिला रुक नहीं रहा है. इसी कड़ी में फुलवारीशरीफ के खगौल में सात बाल मजदूरों को रिहा कराया गया है. इन सभी बच्चों को ट्रेन से सिकंदराबाद के निजामबाग ले जाया जा रहा था. पुलिस को इस बात की सूचना पहले से ही थी, कि सिकंदराबाद एक्सप्रेस ट्रेन से बाल मजदूरों को ले जाया जा रहा है. जीआरपी ने छापेमारी की और सभी बच्चों को आजाद कराया. वहीं बच्चों को ले जा रहे दलाल को भी पकड़ लिया गया है. पूछताछ की जा रही है.

बताया जा रहा है कि सोमवार को सिकंदराबाद एक्सप्रेस ट्रेन से मजदूरी कराने ले जा रहे एक दलाल को दानापुर जीआरपी ने गिरफ्तार किया. जिसके पास से 7 बाल मजदूरों को छुड़ा लिया गया. पकड़ा गया दलाल खगड़िया निवासी मोहम्मद भगलू बताया जा रहा है. सभी बच्चों को सिकंदराबाद के निजामबाग स्थित चावल फैक्ट्री में मजदूरी करवाने ले जा रहा था. पुलिस को इस बाबात पहले से ही लीड मिली थी. जिसको फॉलो करते हुए ये कामयाबी मिली.

घटना के बारे में जीआरपी थाना प्रभारी योगेन्द्र प्रसाद ने बताया कि सूचना मिली कि सिकंदराबाद एक्सप्रेस से बिहार के विभिन्न जिलों बेतिया, मोतिहारी, पटना, गया और खगड़िया से बाल मजदूरों को ले जाया जा रहा है. जिनकी उम्र महज 10-14 साल के बीच है. उन्हे मजदूरी कराने ले जाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सूचना मिलते ही क्विक एक्शन लिया गया. तुरंत जीआरपी की टीम ने छापेमारी कर दलाल को गिरफ्तार कर लिया. और बच्चों को छुड़ा लिया. मुक्त कराए गए बच्चों को प्रयास बाल कल्याण समिति पटना को सौंप दिया गया है. बच्चों के परिजनों से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है.

यह भी पढ़ें-

बिहटा में दर्दनाक सड़क हादसा, अनियंत्रित ट्रैक्टर पलटने से दबे सात मजदूर

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*