Breaking News

निखिल प्रियदर्शी की गिरफ्तारी के लिए IG ने गठित की अलग टीम, अंडरग्राउंड हुआ निखिल

पटना : कांग्रेस के पूर्व मंत्री की बेटी प्रिया (बदला हुआ नाम) के यौन शोषण के आरोपी पटना के चर्चित ऑटोमोबाइल कारोबारी निखिल प्रियदर्शी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने कमर कस लिया है. पुलिस की सुस्ती से तंग आकर पीड़िता ने मंगलवार को कमजोर वर्ग के IG ए के यादव से मुलाकात कर अपनी पीड़ा सुनाई. आईजी यादव ने पीड़िता को आरोपी निखिल की जल्द ही गिरफ्तारी का आश्वासन दिया. इसके बाद एक्शन में आते हुए IG ए के यादव ने निखिल प्रियदर्शी की गिरफ्तारी के लिए अलग से एक टीम का गठन किया है, जो केवल निखिल का पता लगाकर उसके ठिकानों पर छापेमारी करेगी. आईजी ने बताया कि आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा. जल्दी से जल्दी गिरफ्तार करने की कोशिश की जाएगी.

निखिल के अंडरग्राउंड होने की आशंका

सूत्रों के अनुसार आरोपी निखिल प्रियदर्शी अंडरग्राउंड हो चुका है. क्योंकि पटना और झारखंड के उसके सभी ठिकानों पर पुलिस छापेमारी कर चुकी है. निखिल गिरफ्त में नहीं आ सका. अब पुलिस निखिल के संबंधियों को ट्रेस कर रही है, जिससे निखिल का पता लगाया जा सके. ऐसी आशंका भी जताई जा रही है कि निखिल प्रियदर्शी देश छोड़कर फरार हो गया है.

अनुसूचित जाति आयोग ने दिया था 15 दिनों में गिरफ्तार करने का आदेश

पीड़िता ने इसके पहले राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग को शिकायत किया था. आयोग ने पीड़िता की शिकायत का संज्ञान लेते हुए पुलिस को 15 दिनों के अंदर गिरफ्तार करने का आदेश दिया था. अब तो 15 दिन बीतने को भी है. लेकिन अभी तक निखिल की गिरफ्तारी संभव नहीं हो पायी है. निखिल की ओर से एडीजे कोर्ट में बेल पीटीशन भी दायर किया गया था. जिसके बाद कोर्ट ने पुलिस को निखिल के पिता और भाई के लिए नो कोरेसिव लागू करने का आदेश दिया था.

यह भी पढ़ें :

निखिल के ठिकाने पर रेड, मिले सबूत, पीड़िता ने कहा, अब और क्या चाहिए

निखिल के परिजनों के खिलाफ ‘नो कोरेसिव’ लागू करने का आदेश

निखिल की गिरफ्तारी का आदेश, प्रिया को मिलेगी सुरक्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *