डाक पार्सल वैन में थी 392 कार्टन शराब, अंदर का नजारा देख पटना पुलिस के होश उड़ गए

liquor_1
प्रतीकात्मक फोटो

पटना : शराब तस्करी के नए—नए तरीके लगातार सामने आ रहे हैं. पिछले कुछ दिनों में शराब तस्करी के अलग—अलग तरीकों का खुलासा पटना पुलिस लगातार करती आ रही है. इस बार फिर से शराब तस्करी का एक नया मोड सामने आया है. 3492 लीटर विदेशी शराब की एक बड़े खेप को डाक पार्सल वैन से पटना लाया जा रहा था. पुलिस को इसकी भनक पहले नहीं थी.

दरअसल, शाहपुर थाना के तहत पुलिस टीम शिवाला मोड़ के पास गाड़ियों की चेकिंग कर रही थी. तभी डाक पार्सल वैन में शराब की खेप लेकर आ रहे ड्राइवर व खलासी की नजर पुलिस टीम के उपर पड़ी. पुलिस वालों को देख ड्राइवर ने भागने की कोशिश की. उसने गाड़ी की स्पीड बढ़ा दी. जिसके बाद पुलिस टीम को शक हुआ. टीम ने नेउरा आउट पोस्ट की टीम को खबर किया. फिर शाहपुर और नेउरा की टीम ने मिलकर पार्सल वैन को ओवर टेक​ कर पकड़ा. ड्राइवर अशोक यादव और खलासी शैलेंन्द्र कुमार को अपने कब्जे में लिया. फिर डाक पार्सल वैन के लॉक को खोला तो फिर अंदर का नजारा देख टीम के होश उड़ गए.

patna-van-driver
पटना पुलिस की गिरफ्त में वैन ड्राइवर और खलासी.

रिसीवर की चल रही है तलाश

प्रभारी एसएसपी सह सिटी एसपी अमरकेश दारपीनेनी के अनुसार पकड़े गए ड्राइवर और खलासी दोनों ही उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के रहने वाले हैं. वैन के अंदर से 392 कार्टन में 3492 लीटर विदेशी शराब बरामद की गई. पूछताछ में ड्राइवर और खलासी ने बताया कि पंजाब के जालंधर में शराब की इस खेप को लोड किया गया था. शराब की खेप को किसने भेजा और पटना में इसका रिसीवर कौन था? इसकी डिलीवरी किस इलाके में होनी थी? इस बारे में पता लगाया जा रहा है.

हरियाणा नंबर के इस पार्सल वैन के रजिस्ट्रेशन को भी खंगाला जा रहा है और इसके मालिक का डिटेल्स पता किया जा रहा है. बरामद शराब की खेप की कीमत लाखों में है. डाक पार्सल वैन सरकारी है या किसी प्राइवेट कुरियर कंपनी की? इसका भी पुलिस पता लगा रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*