बक्सर में दस हजार घूस लेते सिमरी पीएचसी प्रभारी चढ़े निगरानी के हत्थे

बक्सर (शशांक सिंह): राज्य में सुशासन के लाख दावों के बावजूद सरकारी कार्यालयों में घूसखोरी और भ्रष्टाचार के मामलों में कमी नहीं आ रही है. ताजा मामला बक्सर का है, जहां निगरानी विभाग ने छापेमारी कर सिमरी हेल्थ प्रभारी को घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

निगरानी विभाग ने छापेमारी कर स्वास्थ्य विभाग के सिमरी हेल्थ प्रभारी सदाशिव पांडेय को 10 हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के मुताबिक, सदाशिव पांडेय एक आशाकर्मी से  नौकरी देने के नाम पर 10 हजार रूपये घूस ले रहे थे. मिली जानकारी के अनुसार एकौना गांव के रहने वाली एक महिला से आशाकर्मी में नौकरी दिलाने के नाम पर दस हजार रुपये मांग की थी.

दोपहर करीब 12 बजे वह सदाशिव पांडेय कार्यालय में बैठे थे. इसी बीच महिला के भाई ने सदाशिव पांडेय को दस हजार रुपये दिये. पहले से घात लगाये निगरानी विभाग ने उन्हें 10 हजार रुपये घूस लेते गिरफ्तार कर लिया. बक्सर एसपी राकेश कुमार ने बताया कि सूचना मिली है कि हेल्थ प्रभारी सदाशिव पांडेय को 10 हजार रुपये घूस लेते गिरफ्तार किया गया है. बता दे कि 12 अप्रैल को भी निगरानी विभाग ने छापेमारी कर शिक्षा विभाग के डीपीओ विनायक पांडेय को 15 हजार रुपये घूस लेते गिरफ्तार किया था.

बता दें कि हाल ही में मुख्य सचिव के स्तर पर निगरानी, आर्थिक अपराध इकाई, विशेष निगरानी इकाई की समीक्षा में चौंकाने वाले तथ्य सामने आये थे. रिपोर्ट के मुताबिक शिक्षा विभाग में सबसे ज्यादा 70  घूसखोर शामिल थे. रिपोर्ट 10 अप्रैल को सार्वजनिक की गई थी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*