आरा: CM ने पूछा मानव श्रृंखला का रिकॉर्ड बनेगा न! लोगों ने कहा जरूर!!

आरा/जगदीशपुर (पुष्कर पांडेय/सोनू सिंह/अभिषेक हर्षवर्धन): अपनी विकास समीक्षा यात्रा के क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को जगदीशपुर के दावां गांव में पहुंचे और विकास कार्यों का जायजा लेने के साथ कई योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास रिमोट से किया और मेडिकल कालेज की योजना पर सहमति की मुहर लगायी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जगदीशपुर की धरती को प्रणाम करते हुए कहा कि यह वीरों की धरती है. इसी धरती से बाबू वीर कुंवर सिंह ने अन्याय के खिलाफ आवाज उठायी थी.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

आज हम शराबबंदी को सफल बना रहे हैं तो यह भी संकल्प लें कि बाल विवाह व दहेज जैसी सामाजिक कुरीतियों को दूर करेंगे. बिहार की यह सफलता देश दुनिया को नया संदेश देगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्टेज से कहा बिहार के विकास के लिए सारा काम चलेगा. सड़क हो, पुलिया हो, पुल हो, कृषि हो सभी योजनाओं का क्रियान्वयन होगा ताकि प्रत्येक व्यक्ति को जो बुनियादी सुविधा होती है, वह मिल सके.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

शराबबंदी पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जमकर बोले. उन्होंने कहा कि घर का प्रत्येक सदस्य सुखी हो रहा है जो लोग घर में झगड़ा करते थे. शराब पीकर अब वह परिवार का पूरा ख्याल रखा है. आज घर में झगड़ा नहीं हो रहा है उन्होंने भरी स्टेज से यह माना कि कुछ न कुछ लोग गड़बड़ कर रहे हैं शराब लाकर. ऐसे लोगों पर प्रशासनिक तंत्र की मदद से नजर रखिए ताकि उनके मनसूबे नेस्तनाबूत हो सके.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

हर बिजली के खंबे पर नंबर लिखा रहेगा आपको कुछ नहीं करना है बिजली के खंभे से नंबर मिलाइए और मध्य निषेध अधिकारी को सूचना दे दीजिए. मोबाइल की तो कमी है नहीं, मोबाइल से फोन कर दीजिए. कोई आपका नाम भी नहीं जान पाएगा. आपका नाम गोपनीय रहेगा. आप सिर्फ जानकारी दीजिए, घंटा—डेढ़ घंटा के भीतर उसके घर कार्रवाई हो जाएगी.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

इतना ही नहीं जो लोग जानकारी देंगे. उनसे पूरी घटना की जानकारी दी जाएगी और पूछा जाएगा कि कार्रवाई हुई कि नहीं हुई? हम तंत्र विकसित कर रहे हैं इस मामले को लेकर. लेकिन इस में समय लगेगा. इससे जरूरी बात यह है कि सबसे बड़ी बात यह है कि आप जागरुक हों तभी विकास होगा. उन्होंने रोहतास का भी जिक्र किया और कहा कि अभी चार लोग जहरीली शराब से मर चुके हैं.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

उन्होंने कहा कि कुछ आसपास के लोग यदि शराब पीते हैं तो उन को समझाइए कि आप शराब छोड़ दीजिए क्योंकि हो सकता है कि वह जहरीली शराब हो. सबको आप बताइए समझाइए और यह भी समझाइए कि आप दूसरा नशा न पकड़ें. मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी को लागू कर सामाजिक परिवर्तन की बुनियाद हमने रख दी है और आज हम इसके अच्छा अंजाम देख रहे हैं.

सरकारी तंत्र को निरंतर सजग रहना होगा. सड़कों पर लिखा है कि सावधानी हटी, दुर्घटना घटी. आपको इस मामले में निरंतरता बरतनी होगी. शराबबंदी एक ऐसी चीज है जिसे सब लोग मानते हैं. सभी धर्म के लोग इसको मानते हैं. ऐसी स्थिति में सांप्रदायिक सद्भावना एकता का सबसे बड़ा प्रतिज्ञा ले सकते हैं.

आरा: प्रशासन के चेहरे पर थी सुकून भरी मुस्कान, बड़ा ‘यज्ञ’ हो गया पार

अभी हाल में ही कर्नाटक सरकार के द्वारा टीम भेजी गई और एक—एक जगह जाकर यहां की जानकारी ली. देश ही नहीं बल्कि विदेशों से टीम यहां आ रही है कि कैसे यहां शराबबंदी सफल हो गई. आकर इसका अध्ययन कर रही है. नीतीश कुमार ने कहा बाल विवाह और दहेज प्रथा का एक दूसरे से लिंक है. इसलिए हम लोगों ने तय किया कि बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ अभियान चलाएंगे कि बाल विवाह से कितना नुकसान है. प्रसव के दौरान ऐसी महिलाएं मौत के शिकार होती हैं और बच्चे जो पैदा होते हैं वे तरह तरह की बीमारियों के शिकार होते हैं.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

पहले तो संपन्न लोगों के बीच में दहेज प्रथा थी. आज गरीबों के बीच बढ़ी है. दहेज हत्या के मामले में यह एक शर्मनाक बात है कि बिहार उत्तर प्रदेश के बाद दूसरे नंबर पर है. इससे छुटकारा पाना है. दहेज प्रथा का उन्मूलन करना अब आप लोगों के हाथ में है. इसके लिए आप आगे आइए. जिस दिन आप मन बना लीजिएगा, चाहे हमारा कोई रिश्तेदार हो या या कोई परिवार का सदस्य हो, यदि दहेज लेता है तो उसकी शादी में नहीं जाएंगे.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

तो दहेज लेने वाले लोगों के मन में भय पैदा होगा. यह आपके हाथ में है. बापू ने सत्याग्रह आंदोलन के दौरान किसानों के लिए संघर्ष किया. इसका परिणाम यह हुआ कि अंग्रेजों को झुकना पड़ा. अंग्रेज पराजित हुए. आज महात्मा गांधी की तरह ही हम यह मन बना लें कि दहेज न देंगे और जिसके घर दहेज लिया जाएगा, उसके घर नहीं जाएंगे तो इस परंपरा को मिटा सकते हैं.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

सीएम ने कहा कि सरकार के साथ समाज की जागरूकता से ही सूबे में नया परिवर्तन होगा. सरकार ने बीते साल जिस तरह से शराबबंदी के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाई थी, उसी तरह 21 जनवरी को दहेज एवं बाल विवाह कुप्रथा के खिलाफ मानव श्रृंखला से फिर विश्व रिकॉर्ड टूटेगा. उन्होंने लोगों से संकल्प भी लिया. इस बार मानव श्रृंखला पिछले वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ेगी. लोगों ने भी सीएम के फैसले का सम्मान किया और हाथ उठाकर उनका अभिनंदन किया.

आरा : मुख्यमंत्री के दावाँ यात्रा के खिलाफ माले ने किया जोरदार प्रदर्शन: अजीत कुशवाहा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जैसे ही सड़क मार्ग से जगदीशपुर के दावां पंचायत के दावां गांव स्थित सज-धज कर तैयार पंचायत भवन में पहुंचे. उनका स्वागत करने के लिए पहले से ही जिले के प्रभारी मंत्री विनोद कुमार सिंह जदयू के एकमात्र अगिआंव के विधायक प्रभुनाथ राम स्थानीय मुखिया सुषुमा लता के अलावा पूर्व मंत्री सहा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भगवान सिंह कुशवाहा मौजूद थे. जिन्होंने बुके देकर उनका मान—सम्मान किया.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

इसके बाद पंचायत भवन में पहुंचकर विकास पर जमकर चर्चा की तथा घूम-घूमकर जायजा लिया. स्टेज पर सीएम के साथ विरोधी पार्टियों के विधायक और एमएलसी भी दिखाई दिए. मंच पर प्रभारी मंत्री विनोद सिंह अगिआंव के विधायक प्रभुनाथ राम, जगदीशपुर के विधायक राम विशुन सिंह लोहिया, आरा के विधायक अनवर आलम, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भगवान सिंह कुशवाहा बैठे हुए थे.

आरा: मुख्यमंत्री विकास नहीं, विनाश यात्रा पर निकले हैं : राजू यादव

इनके अलावा जदयू के जिला अध्यक्ष समेत कई नेताओं को स्टेज पर चढ़ने की अनुमति तक नहीं मिली. एक नाम पहले से तय माना जा रहा था, जदयू नेत्री पूर्व सांसद मीना सिंह. लेकिन वह अपरिहार्य कारणों से इस सभा में दिखाई नहीं दी. पंचायत भवन में निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जीविका द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण कर जानकारी ली.

आरा: CM के स्वागत को लेकर सज-धज कर तैयार आरा का दावां गांव, सुरक्षा एकदम ‘टाइट !!

इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मनरेगा द्वारा तैयार किए गए तालाब का निरीक्षण कर अधिकारियों को विशेष तरफ से दिशा—निर्देश दिया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी देर तक यहां पर रहे और अधिकारियों को दिशा—निर्देश देते रहे.

भोजपुर में सीएम की समीक्षा यात्रा

सीएम ने किया पौधारोपण
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी इस यात्रा के दौरान पौधारोपण कर सभी को पर्यावरण की सुरक्षा करने की सीख दी. उन्होंने पौधारोपण कर यह जानकारी दी कि आज हमारे लिए पेड़—पौधे कितने महत्वपूर्ण होते जा रहे हैं.  इस दौरान सीएम द्वारा कुल 257 योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास भी किया जिसकी लागत राशि लगभग 2 सौ 22 करोड़ रुपये होगी

अग्रिम पंक्ति में बैठे थे ये लोग

भोजपुर जिला के प्रभारी मंत्री सह खान एवं भूतत्व मंत्री विनोद कुमार सिंह, एमएलसी राधाचरण साह, आरा सदर विधायक डॉ. अनवर आलम, अगिआंव जदयू विधायक प्रभुनाथ राम, जगदीशपुर विधायक रामबिशुन सिंह, पूर्व मंत्री श्री भगवान सिंह कुशवाहा, डीजीपी पीके ठाकुर, मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह अग्रिम पंक्ति में बैठे हुए थे. वहीं मंच पर उपस्थित अन्य प्रमुख लोगों में स्थानीय मुखिया सुषुमलता, भाजपा जिलाध्यक्ष मिथिलेश कुशवाहा, जदयू जिलाध्यक्ष अशोक शर्मा, मुखियापति सह जदयू के प्रखंड अध्यक्ष मनजी चौधरी समेत अन्य गणमान्य लोग थे. सर्वप्रथम भोजपुर जिला पदाधिकारी संजीव कुमार ने मुख्यमंत्री के आगमन में स्वागत पत्र पढ़ते हुये दावां ग्राम समेत भोजपुर जिले की विशिष्टता को उनके समक्ष रखा. उसके बाद बारी बारी से सभी उपस्थित वर्तमान विधायकों के बाद भोजपुर जिले के प्रभारी मंत्री ने अपने संबोधन में नीतीश कुमार को विकास पुरुष की संज्ञा देते हुए कहा कि इनके कुशल नेतृत्व में राज्य चौतरफा विकास के पथ पर अग्रसर है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*