दहेज प्रथा को जड़ से समाप्त करने के लिए वर्षो से चल रही मुहीम : पूर्व मुखिया

बगहा : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा चलायी जा रही बाल-विवाह, दहेज लेना नहीं देना जैसे महत्वपूर्ण अभियान की सफलता को लेकर लोगों को जागरुक किया जा रहा है. प्रखंड बगहा एक के लगुनाहा-चौतरवा व चन्द्राहा-रुपवलिया पंचायत में समाज सेवियों ने गरीब, असहाय परिवार की कुमारी कन्याओं की शादी जन सहयोग से वर्षो पूर्व से कराते आ रहे हैं. लगुनाहा-चौतरवा पंचायत के पूर्व मुखिया सह पैक्स अध्यक्ष सुनील कुमार की माने तो वे दहेज प्रथा को जड़ से समाप्त करने को लेकर वर्षो पूर्व से ही मुहीम शुरु कर दी गयी है.

लोगों से बाल विवाह नहीं करने, दहेज नहीं लेने व देने को लेकर लोगो में जागरुकता अभियान चलाकर जागरुक किया जा रहा है. वहीं चन्द्राहा-रुपवलिया पंचायत के समाजसेवी बलराम तिवारी ने बताया कि वे भी वर्षो पूर्व से चन्द्राहा-रुपवलिया पंचायत के शेरा बाजार शिव मंदीर परिसर में क्षेत्र के गरीब, असहाय परिवार के कुमारी कन्याओं की शादी संपन्न कराते आ रहे हैं.

उन्होंने बताया कि इस साल भी वे लगभग 51 कुमारी कन्याओं की शादी संपन्न करायेंगे. श्री तिवारी ने सुबे की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की दहेज प्रथा व बाल- विवाह अभियान को सराहा है. उन्होने बताया कि आधुनिक युग व बदलते परिवेश में दहेज एक अभिशाप बन गया है. उन्होंने बताया कि दहेज रुपी दानवों ने हमारी बहन-बेटियो को दहेज नहीं मिलने पर उनको बेदी पर चढ़ा रहे हैं. सरकार के द्वारा चलायी जा रही जागरुकता अभियान को समाज के लोगों ने काफी सराहा है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*