पढ़ने के समय में बच्चें सिसईली गोली का खेल -खेलते हैं

बगहा: बगहा पुलिस जिला के करीब दर्जनों विद्यालयों में शिक्षकों की लापरवाही के वजह से बच्चे पढ़ाई के समय क्लास छोडकर सिसइली गोली का खेल खेलते हैं,जबकि अभिभावक यह समझते हैं कि मेरे बच्चे पढ़ने गये हैं.लेकिन विद्यालय से बच्चे अपनी हाजिरी बनवाकर लापता हो जाते हैं,लेकिन शिक्षक को यह भी पता नही रहता है ,की हाजिरी बनवाने के बाद बच्चे कहाँ है.

कई विद्यालयों में तो शिक्षक आपस में गप ही करते 4 बजने का इन्तजार करते हैं.हालाकि शिक्षा विभाग व प्रशासन  के लापरवाही के वजह से पढ़ने वाले बच्चों की शिक्षकों व विद्यालय के ससमय से जांच नही होने के कारण ऐसी समस्या हो रही है.शिक्षक की लापरवाही के वजह से बच्चे सिसईली का खेल खेलते है .कई बार तो इस खेल को लेकर बच्चों के बीच मारपीट भी हो जाती है.

विशेष तौर पर जिले के सुदूर देहात ईलाका में शिक्षकों की बेहद लापरवाही दिख रहा है.राजकीय उत्क्रमीत मध्य विधालय लगुनहा के प्रधानाचार्य लक्ष्मण प्रसाद  व शिक्षक मनीष कुमार तथा अवध बिहारी नारायण शाही ने बताया कि बच्चों के अभिभावको के लापरवाही के वजह से बच्चें बिगड रहे है.हालाकि मात्र 6 घन्टे ही बच्चों को विधालय मे व्यतीत करना पडता है . जबकि 18 घन्टा बच्चों को अपने अभिभावक के पास रहते है।वही हाल राजकीय प्राथमिक विधालय अहिरावलिया समेत विभिन्न सुदूर देहात ईलाके का है .

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*