बगहा के गौनाहा में सरकारी योजनाओं में उगाही को लेकर हंगामा

बगहा/गौनाहा(अरविंद/ओम प्रकाश): वृद्धा पेंशन इंदिरा आवास एवं अन्य सरकारी योजनाओं में लाभार्थियों से उगाही करने वाले बिचौलियों को चिन्हित कर उन पर FIR दर्ज होगा. उक्त बातें बीडीओ श्रीकांत ठाकुर ने बेलसंडी सामुदायिक भवन में जीप अध्यक्ष शैलेंद्र गढ़वाल के अनुरोध पर एवं डीएम निलेश रामचंद्रन के आदेश पर आयोजित वृद्धा पेंशन शिविर में मंगलवार को कही. बीडीओ ने कहा कि 30 सितंबर 2016 से जिन वृद्धा पेंशन धारियों को वृद्धा पेंशन नहीं मिल रहा है, उनका राशन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक अकाउंट के पासबुक की छायाप्रति जमा करवाया जा रहा है. ताकि वृद्धा पेंशन से वंचित लोगों को पेंशन दिया जा सके.

उन्होंने कहा कि वैसे लाभार्थी भी अपना आवेदन जमा कर सकते हैं, जिनका अभी तक वृद्धा पेंशन अब तक नहीं मिल रहा है. तथा उनका उम्र 60 वर्ष से अधिक है. बेलसंडी पंचायत के विभिन्न गांवों से पहुंचे लोगों की भारी भीड़ देखकर बीडीओ ने नंदकिशोर चौधरी को फटकार लगाते हुए कहा कि इतनी बड़ी संख्या में वृद्ध जो पेंशन से वंचित हैं, परंतु उनका वृद्धा पेंशन के लिए फॉर्म नहीं भरा गया है. दर्जनभर विकलांग व्यक्तियों ने विकलांगता पेंशन नहीं मिलने की शिकायत बीडीओ एवं जिप अध्यक्ष शैलेंद्र गढ़वाल से की.

रमपुरवा जन शिक्षा केंद्र में मनाया गया क्रिसमस डे, पढ़िए बगहा से अन्य ख़बरें

विकलांगता पेंशन हेतु शिविर में करीब 285 फॉर्म जमा किया गया. शिविर में सलेमपुर कि सोमारी देवी तथा ठगिया देवी ने आरटीपीएस काउंटर पर बिचौलिए एवं आरटीपीएस कर्मी पर 200 रूपए निवास बनाने के नाम पर उगाही करने की शिकायत जिप अध्यक्ष शैलेंद्र गढ़वाल से की. इंदिरा आवास के नाम पर भी उगाही करने करने की शिकायत लोगों ने बीडीओ एवं जिप अध्यक्ष की. जीप अध्यक्ष ने कहा कि गौनाहा प्रखंड और अंचल में व्याप्त भ्रष्टाचार की शिकायत डीएम से की जाएगी, ताकि जरुरतमंद लोगों को सरकारी लाभ मिल सके तथा प्रखंड से बिचौलियों की भूमिका समाप्त हो सके.

उन्होंने कहा कि सूची के आधार पर लोगों को इंदिरा आवास मिलना चाहिए. इस पर जो उगाही हो रही है, इस पर रोक लगाना चाहिए. शिविर में भाग लेने वाले में पूर्व मुखिया शिवप्रसाद महतो, पूर्व सरपंच रुद्रदेव पटवारी, नैना देवी हरि गुरु, रेशमी देवी, चंद्र महतो भूपेंद्र नारायण आदि प्रमुख थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*