बगहा में बाल्मीकिनगर विकास मंच ने आयोजित किया संत-सम्मेलन

बगहा/वाल्मीकिनगर(दिवाकर कुमार): इंडो-नेपाल बॉर्डर वाल्मीकिनगर नगर धाम वाल्मीकि की तपो भूमि पर आज शनिवार से परमात्मा तक पूण्य चरण का आयोजन वाल्मीकिनगर विकास मंच के द्वारा आयोजित किया गया. रामानुजाचार्य जन्मशताब्दी 1000 हजार वर्ष मना गया. वहीँ कार्यक्रम का शुभारम्भ सभी अतिथियों द्वारा दीप प्रवज्वलित करके किया गया. थरुहट की महिलाओं ने संस्कृति कार्यक्रम में झूमटा नृत्य पेशकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर किया.

उपेन्द्र पराशर महाराज जी ने अपने संबोधन में कहा कि कोई विदेशी पश्चिमी चंपारण की महर्षि वाल्मीकि तपोभूमि को देखने को आता हैं, तो वह बड़े महलों को देखने नही बल्कि वाल्मीकि आश्रम और नर माँ देवी को देखने और यहाँ सर झुकाने आता है. सौभाग्य की बात है कि यह चंपारण की धरती वाल्मीकिनगर विधानसभा क्षेत्र का भी पहला का स्थान है. कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि वाल्मीकिनगर सांसद को वाल्मीकिनगर के क्षेत्र में वाल्मीकि की भव्य मूर्ति को अपने स्तर से लगवाने के निर्देश दिए.

बगहा में 50 लाख खर्च होने के बाद भी नहीं मिला शुद्ध पेयजल

उन्होंने ने बताया कि 16 हजार करोड़ हर एक राज्य विकास खर्च लिए दिया जाता हैं. श्री रामानुजाचार्य महाराज जी ने संबोधन में कहा कि समय को सबसे बड़ा भगवान मानते हैं. उन्होंने ने उदाहरण में बताया कि जज चाहे तो अपनी कलम की ताकत से एक मिनट में किसी की जान भी ले सकता हैं तो बचा भी सकता है. राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह ने सन्देश देकर बगहा विधायक श्री पाण्डेय को इस कार्यक्रम की बधाई दी.

मंच का संचालन दीपक राही ने किया. इस मौके पर गणमान्य कृषि मंत्री राधामोहन सिंह, नित्यानंद राय वैशाली, सांसद सतीश चंद्र दुबे, बगहा विधायक राघव शरण पांडेय, रामनगर विधायक भागरती देवी, बेतिया सांसद संजय जयसवाल, उपेन्द्र पराशर जी महाराज, समाजसेवी डी. आनन्द, पूर्व बाल संरक्षण आयोग की सदस्य अर्पणा सिंह बहुरानी, बगहा उपसभापति जितेंद्र राव और यूपी बिहार से आये संत एवं प्रवचन सुनने वालों की हजारो हजार की संख्या में लोग उमड़े. वाल्मीकिनगर विकास मंच के संचालक और व्यवथापक आर.एस पाण्डेय हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*