रेल हादसे में मृत दो महिला व बच्ची की शिनाख्त, सौंपा गया परिजनों को

बगहा : पिछले दिनों 13 फ़रवरी को नरकटियागंज गोरखपुर रेल खण्ड के बाल्मीकिनगर स्टेशन के पास हुई रेल दुर्घटना में मृत दो महिला और एक बच्ची की पहचान कर ली गई है. पहचान के बाद प्रशासन द्वारा शव को उनके परिवार वालों को सौप दिया गया है. तीनों शव रामनगर प्रखण्ड के हरदिया गांव के रहने वाले राजबली साह की पत्नी, पतोहू व पोती की है.

शव को लेने पहुंचे मृत उमरावती देवी के जेठ बिपिन साह ने बताया कि उस दिन उनकी मां सुखली देवी पतोहू उमरावती व 3 वर्षीया पोती के साथ मदनपुर देवी स्थान पर उमरावती के एक मनौती पूरी होने पर प्रसाद चढ़ाने आई थी. वही उमरावती के पिता डुमरिया निवासी पशपत गोंड ने बताया कि इस घटना कीखबर मिलने के बाद हमलोग लगातार खोज कर रहे थे. वही अख़बार के माध्यम से यह पता चला तो आज हम यहां आये हैं. शव को देखने के बाद मृत उमरावती के ससुराल व मैके में कोहराम मच गया है. सबका रो-रो कर बुरा हल है. उमरावती के दो बच्चे हैं तथा उसके ससुराल के सभी लोग चिमनी पर ईंट बनाने का काम करते है. बताते चले कि 13 फ़रवरी को बाल्मीकिनगर रेलवे स्टेशन पर भपसा नाला के पास जम्मू कटरा एक्सप्रेस की चपेट में आने से उक्त दोनों महिला व 3 वर्षीया बच्ची लालता कि मौत हो गई थी. पहचान नही होने के कारण प्रशासन द्वारा शव को अनुमंडलीय अस्पताल में सुरक्षित रखा गया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*