अतिक्रमण के चपेट से विलुप्त हो रहा तालाब व कुंआ

well

बगहा : बगहा नगरपरिषद के अंतर्गत कई सरकारी तालाब और सर्वे के समय का कुंआ, जो सर्वे नक्शा में भी है, आज अतिक्रमण का शिकार होकर अपनी अस्तित्व समाप्त होने का रोना रो रहे हैं. जबकि गत माह हाई कोर्ट के आदेश के आलोक में प. चम्पारण जिला अधिकारी ने सभी अंचल अधिकारियों को चिह्नित कर कार्रवाई करने का आदेश जारी किया था.

समाजसेवी अशोक दास, डाॅ. अजय कुमार आदि के अनुसार कुंआ और तालाब की महता से इनकार नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि दोनों के अभाव के कारण ग्लोबल वार्मिंग हो रहा है. भूकम्प का बार-बार आने का एक कारण यह भी है, अगर प्रशासन इस पर ध्यान दे तो पर्यावरण के साथ सरकारी सम्पति की भी सुरक्षा हो सकती है.

well

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*