वार्डेन और एकाउटेंट के अवैध सम्बन्ध पर छात्राओं ने प्रदर्शन किया

bagha-news

बगहा : मधुबनी प्रखंड स्थित कस्तूरबा गांधी की छात्राओं ने वार्डेन एकाउंटेंट एवं व्यवस्था पर मनमानी करने, मेनू के अनुसार भोजन नहीं देने एवं एकाउंटेंट और वार्डन के बीच अवैध संबंध होने की बात करते हुए गुरुवार को विद्यालय से बहिष्कार किया एवं पंचायत के मुखिया राजेश राम के दरवाजे पर अनशन किया. मुखिया द्वारा इसकी सूचना प्रखंड विकास पदाधिकारी मधुबनी अजमल प्रवेश को दिया गया. बीडीओ की जांच के दौरान बच्चियों ने बताया कि कस्तूरबा गांधी की व्यवस्था काफी बिगड़ गई है.

इन लोगों ने कहा कि कस्तूरबा गांधी विद्यालय में उन लोगों को मीनू के अनुसार भोजन नहीं दिया जाता है. बच्चियों के खाने के लिए अलग भोजन एवं अकाउंटेंट, वार्डन एवं शिक्षक के खाने के लिए अलग भोजन बनता है. बच्चियों ने बताया कि विद्यालय में भोजन की व्यवस्था में बच्चियों के लिए चिकेन तो वार्डन एवं अन्य सदस्यों के लिए मटन की व्यवस्था की जाती है. कस्तूरबा गांधी की बच्चियों ने एकाउंटेंट एवं वार्डन पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन दोनों के बीच अवैध संबंध स्थापित है.

bagha-news

कस्तूरबा गांधी के नियम अनुसार शाम के 5:00 बजे के बाद विद्यालय के अंदर किसी भी पुरुष को प्रवेश करना वर्जित है. जबकि विद्यालय के अकाउंटेंट अमरजीत प्रसाद रात 8:00 से 10:00 बजे तक विद्यालय के अंदर ही रहते हैं. बच्चियों ने कहा कि अमरजीत प्रसाद एवं वार्डन रीता कुमारी के बीच अबैध संबंध है. इन लोगों ने बताया कि हम लोगों द्वारा इसका विरोध किया जाता है तो हम लोगों के साथ मारपीट की जाती है. बच्चियों ने आरोप लगाया कि वार्डन के द्वारा अश्लील हरकत करने के बाद जब उनसे इस पर आपत्ति की जाती है तो उनके द्वारा तरह-तरह के लालच देकर हमें चुप रहने की बात कही जाती है.

हलांकि इस दौरान कस्तूरबा गांधी की छत्राएँ दो भागों में बटी दिखाई दी. वर्ग 8 की बच्चियों के द्वारा इन सब आरोपों को बेबुनियाद बताया. जब की छठी और सातवीं की बच्चियों ने इसे सही बताया. इसका समर्थन करते हुए विद्यालय की रसोईया आशा कुंवर ने बताया की बच्चियों द्वारा कही जा रही बात सब सही है. यह काम बहुत दिनों से होता था, लेकिन डर के मारे नहीं कहा जाता था. इस संबंध में पूछने पर वार्डन रीता कुमारी एवं लेखापाल अमरजीत ने बताया का हम लोगों के ऊपर लगाये गए सभी आरोप झूठे एवं बेबुनियाद है.

इसकी जांच करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा की बच्चियों द्वारा किए गए शिकायत की जांच कर बड़ी अधिकारियों को लिखा जाएगा एवं दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*