एक वर्ष से मध्याह्न भोजन से वंचित हैं छात्र

बगहा (सेमरा) : एक ओर जहां सरकार बच्चों की शिक्षा के साथ अन्य सुविधाएं भी प्रदान कर रही हैं, ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा विद्यालयों से जोड़ा जा सके. वहीं बगहा दो प्रखंड के बैरागी सोनवर्षा पंचायत के राजकीय मध्य विद्यालय चिउटाहा में सोमवार को बीते एक वर्ष से मध्यान भोजन नहीं बनने को लेकर विद्यालय के बच्चों ने जम कर हंगामा एवं नारेबाजी की.

जानकारी के अनुसार उक्त विद्यालय में करीब चार गांव के बच्चे दूर-दराज से पठन-पाठन के लिए आते हैं, लेकिन विद्यालय में एमडीएम नहीं बनने के कारण उनको दोपहर में भोजन के लिए अपने-अपने घर जाना पड़ता है. ऐसे में उनकी पढ़ाई तो बाधित होती ही है, साथ ही उनको घोर परेशानी का सामना भी करना पड़ता है.

वहीं हंगामा कर रहे बच्चों ने बताया कि बीते एक वर्ष में केवल जनवरी माह में एमडीएम बना था, लेकिन इस माह में एक दिन भी भोजन नहीं बना है. बच्चों ने बताया कि दोपहर में भूख लगने के बाद हमें भोजन के लिए अपने घर जाना पड़ता है. ऐसे में आसपास के बच्चे तो चले जाते हैं, लेकिन दूर-दूराज के बच्चों को घर जाकर भोजन करके आने में काफी समय लग जाता है. ऐसे में हमारी पढ़ाई बाधित हो जाती है.

कहते हैं प्राचार्य
मेरी पदस्थापना जुलाई माह में यहां हुई थी उस समय भी मध्यान भोजन की समस्या उत्पन्न हो रही थी. इसके लिए जिला को कई बार लिखा गया लेकिन वहां से जवाब मिलता है कि इसके पूर्व प्रधान शिक्षक के विरुद्ध गबन का मामला चल रहा है. इसी के आलोक में एमडीएम बंद है.
शंभूशरण शर्मा, प्रधान शिक्षक, राजकीय मध्य विद्यालय, चिउटाहां

क्या कहते हैं अधिकारी
पूर्व प्रधान शिक्षक राजकुमार राम पर 80 हजार रुपये गबन का मामला चल रहा है. एमडीएम के लिए जिला को लिखा गया है. वरीय पदाधिकारियों का आदेश मिलते ही सुचारु रुप में एमडीएम शुरु कर दिया जाएगा.
जाहिद इकबाल, एमडीएम प्रभारी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*