17 निजी क्लीनिकों ने नहीं मानी स्वास्थ्य विभाग की बात,10 मई को ही करना था बंद नहीं हुई कार्रवाई

कार्रवाई के नाम पर सिर्फ नोटिस जारी कर दिया गया

लाइव सिटीज, बेगूसराय: जिले में नियम को ताक पर रखकर मेडिकल कचरा के जरिए प्रदूषण फैलाने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने कड़ा रूख अख्तियार जरूर किया, लेकिन जिला स्वास्थ्य विभाग इस मामले में उदासीन बना हुआ है. सिविल सर्जन ने जिले के 17 निजी क्लीनिकों को 10 मई तक बंद करने का आदेश दिया था, लेकिन डेडलाइन खत्म हो जाने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की ओर से इन निजी क्लीनिकों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है. विभाग के लचर रवैये से लोगों में तरह-तरह की चर्चा चल रही है.

 

जारी आदेश में कहा गया था कि 10 मई तक जो क्लीनिक बंद नहीं करते हैं उन क्लीनिकों को मजिस्ट्रेट व पुलिस बल की मदद से बंद कराया जाएगा. लेकिन, स्थिति यह है कि तय तारीख के दो दिन बाद भी विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है. स्वास्थ्य विभाग ने जिन 17 क्लीनिकों को बंद करने का नोटिस दिया है उसमें कई शहर में ही संचालित हैं तो कई का संचालन अलग-अलग प्रखंड में हो रहा है. इन क्लीनिकों को बंद करने को कहा गया.

डॉ. बीके राय अशोक नगर पोखरिया, बेगूसराय, आरबीएस हॉस्पिटल कसबा, तेघड़ा, वार्ड-20 बेगूसराय, एसएस मेटरनिटी हॉस्पिटल, आईएमए हॉल के सामने, प्रमिला चौक, बेगूसराय, डॉ. धीरज कुमार, सीटी डेंटल हॉस्पिटल व डॉ. मोहन मंजूल, नेत्र ज्योति आई हॉस्पिटल एवं इम्प्लांट सेंटर, डाकबंगला रोड, बेगूसराय हैं.

इसके अलावा शबनम हॉस्पिटल, देवना चौक, डॉ. एके चौधरी, पीपल नर्सिंग होम, डॉ. कृष्ण कुमार, चाईल्ड केयर हॉस्पिटल नियर भाई-भाई फैशन, कालीस्थान चौक, डॉ. रामप्रवेश प्रसाद, प्रसाद डेंटल एवं मैक्सिल ऑफिशियल हॉस्पिटल व लोटस आई हॉस्पिटल सेंट्रल बैंक कालीस्थान चौक, डॉ. मीनू माया एवं डॉ. मो. तलवीर आलम, गायत्री हॉस्पिटल, एनएच-31 बलिया को नोटिस दिया गया है.

इसके अलावे डॉ. अमोद कुमार, बच्चा हॉस्पिटल, बलिया बाजार, एनएच-31 बलिया, आनंद नर्सिंग होम, स्टेशन रोड, बलिया, डॉ. राजीव कुमार राय, डॉ. सीमा राय, मेस नर्सिंग होम, एनएच-31 बेगूसराय, डॉ. दिनेश प्रसाद सिंह, साइटो पैथो लैब, काली स्थान चौक बेगूसराय, डॉ. एसएन सिंह डॉ. लाल पैथ लैब कलेक्शन सेंटर, पंकज डायग्नोस्टिक प्रमीला चौक तथा बेगूसराय पैथो सेंटर, स्टेशन रोड बेगूसराय शामिल हैं.

सिविल सर्जन डॉ. बृजनंदन सिंह ने बताया कि जिन क्लीनिकों को नोटिस दी गई है उस पर कार्रवाई की जाएगी. मंगलवार को समीक्षा बैठक के बाद कार्रवाई शुरू की जाएगी.