सीएम कॉलेज में दीक्षांत समारोह आठ अप्रैल को, कॉलेज स्तर पर शैक्षणिक वातावरण होगा सुदृढ़

ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय

बेगूसराय : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय बिहार का पहला विश्वविद्यालय होगा जहां अब कॉलेजों में भी दीक्षांत समारोह का आयोजन होगा. इस ऐतिहासिक कदम के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सुरेंद्र कुमार सिंह को पूरा श्रेय जाता है. ये बातें सीएम कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. मुश्ताक अहमद ने कही.

वे कॉलेज के विभागाध्यक्षों एवं एडवाइजरी कमेटी के सदस्यों के साथ स्नातक सत्र 2015-2018 के उत्तीर्ण छात्रों के लिए कॉलेज स्तर पर प्रथम दीक्षांत समारोह के आयोजन के लिए आहूत बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि कॉलेज स्तर पर इसके आयोजन से शैक्षणिक वातावरण सुदृढ़ होगा और छात्रों में महाविद्यालय परिसर के प्रति ललक बढ़ेगी.

चूंकि कॉलेजों में पहली बार दीक्षांत समारोह होगा,  इसलिए इसकी रूपरेखा के लिए कमेटी बनाई गई है. इसके संयोजक डॉ. अवनी रंजन सिंह और डॉ. अमरेंद्र कुमार शर्मा सहयोगी होंगे. ज्ञात्वय हो कि सत्र 2015-2018 में स्नातक कला के 737 एवं वाणिज्य के 377 अर्थात कुल 1144 छात्र-छात्राएं उत्तीर्ण हुए हैं. इसके अतिरिक्त बीबीए और बीसीए के छात्रों को भी स्नातक उपाधि प्रदान की जाएगी.

बैठक में सर्वसमिति से कुलपति के ऐतिहासिक कदम के लिए उनके प्रति आभार व्यक्त किया गया. कहा गया कि कॉलेज में आठ अप्रैल, 2019 को दीक्षांत समारोह की तिथि तय की गई है. इसलिए डिग्री लेने वाले छात्र-छात्राएं 18 फरवरी से 18 मार्च 2019 तक अपना पंजीयन करा सकते हैं. इस दीक्षांत समारोह में जो अंगवस्त्र विश्वविद्यालय द्वारा सुनिश्चित किया गया है, कॉलेज में भी वही दिया जाएगा और उसके शुल्क के बदले छात्रों से अंगवस्त्र वापस नहीं लिया जाएगा.

इस अवसर पर प्रो. डीपी गुप्ता, डॉ. सीएस मिश्रा, डॉ. अवनी रंजन सिंह, प्रो. विकास कुमार, प्रो. मंजू राय, डॉ. एके शर्मा, डॉ. नारायण झा, डॉ. आरके अमर, प्रो. गिरीश कुमार, डॉ. नथुनी यादव, डॉ. हैदर, प्रो. अमृत कुमार झा, डॉ. आरएन चौरसिया, डॉ. विश्वनाथ झा, डॉ. प्रभात कुमार चौधरी आदि ने विचार रखे.