ममता शर्मसार : कलयुगी मां ने दुधमुंही बच्ची को स्टेशन पर छोड़ा, गरीब महिला ने ली गोद

begusarai

साहेबपुर कमाल/बेगूसराय : जिले के साहेबपुर कमाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर बुधवार को अपराह्न में उस समय अफरा-तफरी मच गई जब एक महिला की नजर फुट ओवरब्रिज के नीचे रखे पोटली पर पड़ी. पोटली खोलने पर पाया की लगभग तीन माह की दुधमुंही बच्ची के मुंह को कपड़े से बांधकर पोटली बनाकर रखा हुआ था. स्टेशन परिसर में एक दुधमुंही बच्ची के लावारिस हालत में मिलने की खबर मिलते ही आसपास के लोगों की भीड़ स्टेशन परिसर में उमड़ पड़ी.

 

लोगों का मानना है कि किसी कलयुगी मां ने बच्ची के मुंह पर इसलिए कपड़ा लपेट दिया ताकि बच्ची के रोने की आवाज नहीं निकले. लेकिन खुदा को तो कुछ और ही मंजूर था. कलयुगी मां ने इंसानियत को तार-तार करते हुए ममता की छांव पर लांछन लगाते हुए तीन माह की बेटी को स्टेशन पर मरने के लिए छोड़ दिया. लेकिन बच्ची जिंदा बच गई.

begusarai

उस बेटी को ममता का छांव दी एक गरीब गुलाब राम की पत्नी ने. गुलाब राम की पत्नी ने बच्ची को खुशी-खुशी गोद लेकर अपनी बेटी बनाकर मानवता को जिंदा कर अपने घर लेकर चली गई. स्थानीय लोगों ने महिला के इस कार्य की जमकर सराहना की. वहीँ दूसरी ओर बच्ची को फेंकने को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं कि आखिर कुछ तो मजबूरी रही होगी.
(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)