बेटी की इज्जत बचाने में 3 लोगों की हुई थी हत्या, अब हुआ खुलासा

भागलपुर: क्राइम का स्तर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है. कभी रिश्तों का क़त्ल, कभी प्रेम प्रसंग में हत्या. लोग हत्या तो ऐसे कर देते जैसे की ये अब कोई आम सी बात हो गई हो. पर कई बार तो ऐसा भी होता है की कभी किसी की जान बचाने में लोग अपनी जान गवा देते हैं.

हालिया वाकया है बिहपुर प्रखंड के झंडापुर में 25 नवंबर को महादलितों की सामूहिक हत्या बेटी की इज्जत बचाने में हुई थी. इसकी चिंगारी नरसंहार के दौरान गंभीर रूप से घायल हुई बिंदी के स्नान के दौरान ताकझांक से सुलगी थी. मामले को लेकर नवगछिया पुलिस ने मंगलवार को पटना में इलाजरत घायल बिंदी के बयान और पहचान के बाद बलराम राय उर्फ बाले राय, कन्हैया झा और मो. महबूबा को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार तीनों अपराधी झंडापुर का ही रहने वाला है.

एसपी पंकज सिन्हा ने बताया कि गिरफ्तार कन्हैया झा की निशानदेही पर उसके घर से घटना के समय पहने गए कारगो पैंट (जिस पर खून का दाग लगा हुआ है), एक फुल शर्ट, दो गंड़ासा, एक खून लगी खंती बरामद की गयी है. बलराम राय उर्फ बालो राय की निशानदेही पर उसके घर से हत्या में प्रयोग किया गए दो चाकू, एक लाठी, एक गमछा, एक फुलपैंट और एक लुंगी (जिसपर लाल रंग का छोटा-छोटा धब्बा है) बरामद की गयी है.

मो. महबूब की निशानदेही पर एक हंसुली और लाल धब्बा लगा टी-शर्ट बरामद किया गया है. उन्होंने कहा कि बरामद सामानों को जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला पटना भेजा जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*