मुहर्रम और दुर्गा पूजा प्रतिमाओं का विसर्जन एक ही दिन, नहीं होगा टकराव

भागलपुर : दुर्गा पूजा के बाद प्रतिमाओं का विसर्जन और मुहर्रम एक ही दिन (एक अक्टूबर को) होने की स्थिति में टकराव नहीं होगा. दोनों समुदाय के लोग इस संकट को आपसी तालमेल और सूझबूझ से हल कर लेंगे. वैसे 21 के बाद यह तय होगा कि मुहर्रम एक अक्टूबर को होगा या दो अक्टूबर को. अगर चांद देखने के बाद दो अक्टूबर को मुहर्रम होगा तो किसी तरह की समस्या नहीं रहेगी क्योंकि दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन एक अक्टूबर को ही होना तय है.

गुरुवार को सदर एसडीओ रोशन कुशवाहा की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक हुई. बैठक में यह सुझाव दिया गया कि डीएम के स्तर पर होने वाली बैठक 21 सितंबर को नहीं रखी जाए. 21 को पहली पूजा है. सुझाव आया कि यह बैठक 22 या 23 को हो. एसडीओ ने कहा कि वे डीएम से बात कर अगली तिथि का निर्धारण करेंगे. एसडीओ ने कहा कि सदस्यों ने पर्व को लेकर वाच टावर, दंडाधिकारी की तैनाती, सड़क की मरम्मत, सफाई, पेयजल, अग्निशमन वाहन, एम्बुलेंस की व्यवस्था करने की मांग की.

त्योहार की अवधि में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की भी मांग की गई. सदस्यों ने एसडीओ से कहा कि जो निर्णय लिए जा रहे हैं उसका अनुपालन किया जाए. इसके पूर्व मुस्लिम हाई स्कूल में 16 को सेंट्रल मुहर्रम कमेटी की बैठक करने का निर्णय लिया गया. जगह-जगह सीसीटीवी कैमरा स्थापित करने, विसर्जन घाट पर एनडीआरएफ की तैनाती करने का भी सुझाव आया.

डीजे पर प्रतिबंध रहेगा. मूर्ति को समय से नहीं उठाने पर डिफाल्टर पूजा समितियों पर कार्रवाई होगी. एसडीओ ने कहा कि जिनको जो समय आवंटित किया जाएगा, उस समय में प्रतिमा को उठाना होगा. बैठक में डीएसपी, सभी थाना प्रभारी व शांति समिति के सदस्य थे.

Golden Opportunity : पटना एयरपोर्ट के पास 1 करोड़ का लग्‍जरी फ्लैट, बुकिंग चालू है

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमेंफ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*