Big Breaking: प्राइमरी स्कूलों में 8386 शारीरिक शिक्षा स्वास्थ्य अनुदेशक होंगे बहाल, बिहार कैबिनेट ने दी मंजूरी, 21 एजेंडों पर लगी मुहर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: अभी-अभी, बिहार कैबिनेट की बैठक खत्म हो गयी. सीएम नीतीश की अध्यक्षता में 21 एजेंडों पर मुहर लगी है. जिसमें बिहार में लोहिया स्वच्छ अभियान फेज-2 के तहत  पूर्णिया में एथेनॉल उत्पादन के लिए प्लांट लगाने के प्रस्ताव को सरकार ने हरी झंडी दी है. इसके साथ ही अक्टूबर में राज्यकर्मियों को महंगाई भत्ता का भुगतान करने और 2022 के कैलेंडर के प्रस्ताव को कैबिनेट ने स्वीकृति दी है. वहीं शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को भी सरकार ने अनुमति दी है. जिसके तहत 8386 फिजिकल टीचर की नियुक्ति होगी.

21 महत्वपूर्ण एजेंडों में मद्य निषेध नियमावली-2021 की स्वीकृति दी है. वहीँ बिहार में वर्ष 2022 के लिए सरकारी कार्यालयों में अवकाश की स्वीकृति दी गयी है. साथ ही बिहार कारा एक्स रे टेक्नीशियन नियमावली-2021 को भी स्वीकृति दी गयी है. इसके साथ ही राज्य के स्कूलों में शिक्षा विभाग की ओर से संचालित योजनाओं की राशि डीबीटी के माध्यम से वितरित करने का फैसला किया गया है. बिहार राज्य हस्तकरघा एवं हस्तशिल्प निगम और बिहार राज्य औषधि एवं रसायन विकास निगम के कर्मियों के लिए सतहत्तर पांच लाख छब्बीस हज़ार रूपये स्वीकृत किये गए हैं. उधर बैठक में एक जुलाई से बढे हुए महंगाई भत्ते को अक्तूबर में भुगतान करने की स्वीकृति दी गयी है. 

8386 शारीरिक शिक्षा स्वास्थ्य अनुदेशक की होगी बहाली. 8386 प्राइमरी स्कूलों में एक-एक शारीरिक शिक्षा स्वास्थ्य अनुदेशक की बहाली होगी जिसे 8 हजार रु मानदेय दिया जाएगा. सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को लाभकारी योजनाओं के लिए 75 फीसदी उपस्थिति को किया गया खत्म. बिहार सरकार ने कोरोना संकट को लेकर लिया फैसला.