बड़ी खबर: कोविशिल्ड के दो डोज के बीच के समय को सरकार ने बढ़ाया, 6-8 हफ्ते के बजाए अब 12-16 सप्ताह के बाद लगेगा दूसरी टीका

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कोविशिल्ड वैक्सीन के दोनों डोज के बीच की अवधि को बढ़ा दिया गया है. राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह यानी एनडीएजीआई की सिफारिश को केन्द्र सरकार ने मंजूरी दे दी है. इसके तहत अब कोविशिल्ड टीका के दोनों डोज के बीच के अंतराल अवधि 6-8 हफ्ते के बजाए 12-16 सप्ताह होंगे. सरकार की मंजूरी के बाद अब कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच गैप 6-8 हफ्ते से बढ़ाकर 12-16 हफ्ते कर दिया गया है. अभी तक कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराकों के बीच का अंतराल 4 से 8 हफ्ते था. 

अपने सिफारिश में एनटीएजीआई ने कई तरह से सुझाव दिए हैं. जैसे संक्रमितों को रिकवरी के छह महीने बाद तक कोरोना टीकाकरण से बचना चाहिए. गर्भवती महिलाओं को किसी भी कोरोना वैक्सीन लेने का विकल्प दिया जा सकता है, और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को प्रसव के बाद किसी भी समय टीका लगाया जा सकता है. इसके पहले डॉक्टरों ने कोरोना संक्रमितों को रिकवरी के 3 महीने बाद वैक्सीन लगवाने का सुझाव दिया है.

बता दें कि एनटीएजीआई की सिफारिशों को राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह के पास भेजा गया. जिसके बाद कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच गैप 6-8 हफ्ते से बढ़ाकर 12-16 हफ्ते कर दिया गया. दरअसल, एक नई स्टडी में दावा किया गया है कि अगर कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज देरी से दी जाए तो इससे कोविड-19 संक्रमण की वजह से मौतें कम होंगी. ये बात 65 साल से कम उम्र के लोगों के लिए कही गई है. हालांकि इसमें ये भी कहा गया है कि अगर परिस्थितियां अनुकूल हुईं तभी ये काम किया जा सकता है, क्योंकि ये एक संभावना मात्र है.