बड़ी खबर: बिहार में इस तारीख तक सभी स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टियां रद्द, विभाग ने जारी कर दिया आदेश

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में कोरोना फुल स्पीड में हैं. लगातार संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है. अब इसकी जद में बड़े-बड़े वीआईपी आने लगे हैं. लगातार इससे हो रही मौत के आंकड़ों में इजाफा हो रहा है. इसकी कहर से बिहार के हर कोने में लोगों की चित्कार सुनाई दे रही है. कोई भी ऐसा जिला नहीं जो इसकी प्रकोप से अछूता रह गया हो. लगातार संक्रमण दर बढ़ता जा रहा है.

इसकी रोकथाम को लेकर बिहार सरकार की ओर से लगातार प्रयास किया जा रहा है. प्रदेश में कई तरह की पाबंदियां लगायी गयी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार बिहार की स्थिति को लेकर समीक्षा बैठक कर रहे हैं. इसको लेकर कई दफा हाईलेवल मीटिंक कर चुके हैं. मीटिंग में सीएम वीडियों कांन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिलों के जिलाधिकारी से वहां की स्थिति से अवगत होते रहते हैं. अधिकारियों को समय दर समय आवश्यक दिशा निर्देश भी देते रहते हैं.

इधर स्वास्थ्य विभाग भी स्थिति में सुधार को लेकर लगातार प्रायसरत है. 31 मई तक बिहार के सभी स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गयी है. डॉक्टर, पारा मेडिकल स्टाफ, नर्स, अधीक्षक और प्राचार्य सभी की छुट्टियां कैंसिल कर दी गयी है. इसको लेकर विभाग की ओर से आदेश जारी कर दिया गया है. 31 मई तक कोई भी कर्मचारी को छुट्टी नहीं दी जाएगी.  

इसके साथ ही बिहार में बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य विभाग में बहाली की भी प्रक्रिया की शुरूआत कर दी गयी है. 6333 डॉक्टरों की नियुक्ती को लेकर वैकेंसी निकाली गयी है. जिसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले दिनों ही निर्देश दिया था. सीएम ने अपने निर्देश में विभाग को आदेश देते हुआ कहा है कि डॉक्टरों और पारा मेडिकल स्टाफ की नियुक्त वाक-इन-इंटरव्यू के आधार पर किया जाए. ताकि ज्यादा से ज्यादा कर्मचारी इस आपदा की घड़ी में सहायक बन सके.