बड़ी खबर: कल पटना को मिल जाएगा डिप्टी मेयर, सुबह 11 बजे वोटिंग, 30 जुलाई से पद है खाली

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कल पटना नगर निगम को डिप्टी मेयर मिल जाएगा. पिछले कई दिनों से यह पद खाली है. लेकिन अब इस पद को भरने की सारी तैयारी कर ली गयी है. निगम प्रशासन की ओर से 16 सितंबर की तारीख निर्धारित की गयी है. इस दिन डिप्टी मेयर के लिए मतदान कराए जाएंगे. जिसके लिए मेयर और विरोध गुट के लोगों ने कमर कस ली है.हालांकि अभी तक दोनों गुट की ओर से डिप्टी मेयर के लिए कौन उम्मीदवार होगा इसका खुलासा नहीं हुआ है.

बताया जा रहा है कि दोनों गुट एक दूसरे के उम्मीदवार के सामने आने का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन यह तय माना जा रहा है कि आज किसी समय दोनों गुट के प्रत्याशियों के नाम सामने आ जाएंगे. दोनों ओर से अपने-अपने गुट के प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करने के लिए रणनीति बनायी जा रही है.

कल यानी 16 सितंबर को समाहरणालय हिन्दी भवन में वोटिंग होगी. जिसमें दोनों गुट आमने सामने होंगे. वोटिंग प्रक्रिया खत्म होते ही वोटों की गिनती की जाएगी. इसके बाद विजयी उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर दी जाएगी. अब देखना होगा किसकी जीत होती है और किसे मात मिलती है.

बता दें कि मेयर सीता साहू के पांच साल के कार्यकाल के दौरान यह पटना नगर निगम का तीसरा डिप्टी मेयर का चुनाव होगा. 2017 में विनय कुमार पप्पू डिप्टी मेयर बने थे. अपने दो साल के कार्यकाल के अंतिम समय में उनकी मेयर से अनबन हो गयी. उन्हें डिप्टी मेयर की कुर्सी से हाथ धोना पड़ गया था. 2019 में डिप्टी मेयर के चुनाव में मीरा देवी लॉटरी में जीती. मेयर गुट के डा. आशीष रंजन सिन्हा 37 मत और मीरा देवी को 37 वोट मिले थे. बराबरी की स्थिति में लॉटरी निकाली गई थी. मेयर के साथ तालमेल नहीं कर सकीं. वे मेयर के विरोधी गुट की थीं, इसके चलते उन्हें दो साल के भीतर कुर्सी से हाथ धोना पड़ा. 30 जुलाई से डिप्टी मेयर का पद रिक्त है.