#Bihar Budget Session: विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दे रहे जवाब…Live

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण का मैं अभिनंदन करता हूं. सदन को जवाब देते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि कोरोना काल में बिहार में जांच सबसे ज्यादा जांच हुई. 10 लाख की आबादी पर बिहार में औसत जांच 21 हजार के करीब ज्यादा हुई..

सीएम नीतीश के संबोधन के मुख्य अंश….



. नई पीढ़ी के लोग कुछ भी बोले मुझे खराब नहीं लगता है

. तेजस्वी के टोकने पर बोले सीएम- सुन लीजिए सभी लोगों को अपनी बात रखनी चाहिए

.बिहार में कोरोना रिकवरी रेट सबसे ज्याद है

.कोरोना गड़बड़ी की शिकायत की जांच की जाएगी

.जांच कराने के लिए लोगों को जागरूक किया गया

.देश में कोरोना रिकवरी रेट 97.3 फीसदी है, जबकि बिहार में 99.2 फीसदी है

. एक-एक दिन के आंकड़ों की मॉनिटरिंग हुई

.अबतक 5 लाख 26 हजार लोगों का टीकाकरण हो गया

. अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है, हम लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है

.कोरोना से पूरी दुनिया प्रभावित हुई है

.नेता प्रतिपक्ष की बातों पर ध्यान दिया जाता है

.किसी चीज को हम लोग यूं हीं नहीं छोड़ देते हैं

.मास्क और दूरी मेंटेन करना जरूरी है

. बिहार में अपराध पर बोले सीएम नीतीश बिहार में क्राइम रेट कम

. कुछ ना कुछ आदमी पूरी जिम्मेवारी को नहीं निभाता है, जिस कारण घटनाएं घटती है

.बिहार में विकास का दर 2019-20 के स्थित मूल्यों पर औसत दर 10.5 फीसदी था

. 2020-21 में बिहार का विकास दर (कोरोना काल) थोड़ा कम था

. 2005 में बजट का आकार 23 हजार करोड़, अब 2 लाख 18 हजार करोड़ 303 लाख हो गया

. 2004-05 में प्रति व्यक्ति आय 7914 रूपया , आज प्रति व्यक्ति 50,735 रूपया हो गया

.दूसरे राज्य की तुलना में बिहार में कम खर्च में काम होता है

.कोई भूख से नहीं मर रहा है, पहले किसी गांव की स्थिति ऐसा नहीं था

.आज मजदूर की स्थिति ऐसी हो गयी हैं कि उसके घर चार-पांच लोग पहुंच जाए तो उसको भी भोजन करा देते हैं

.बिहार में पुल, पुलिया और सड़कों का जाल बिछाने का काम किया गया

.बिहार में हर तरह का काम हो रहा है, किसी को बोलने की स्वतंत्रता है

.बिहार में सड़क और पुल का मरम्मत की जिम्मेवारी निर्माण कंपनी की होगी

. लोक शिकायत निवारण कानून में खराब सड़क की शिकायत की जा सकती है

. सड़क मेंटेनेंस का काम निर्माता कंपनी नहीं करती हैं तो उसपर कार्रवाई होगी

. सड़क, बिल्डिंग के रखरखाव के लिए संबंधित विभाग काम करें

.विपक्ष के हंगामे पर सीएम नीतीश ने लगायी फटकार, कहा- सुनिये पहले बात

. इंजीनियर का काम सिर्फ ठेका करना नहीं है, अब टूटे फुटे काम की देखभाल वो करेंगे

.किसी भी काम के लिए टेंडर होता है, गड़बड़ी करने वालों पर एक्शन होता है

.कहीं कोई गड़बड़ी देखिए, मैं हाथ जोड़कर प्रार्थाना करता हूं तुरंत सरकार को बताएं

.आपके क्षेत्र में कहीं कोई कमी हैं कहीं मेंटेनेंस नहीं हो रहा तो पत्र या सीधे मेरे पास भेजिए उसपर कार्रवाई होगी

. गांवों में सड़कों का निर्माण काम इसी वित्तीय वर्ष में पूरा करा लिया जाएगा

.आज की बिजली की स्थिति पहले थी क्या ? अब घर-घर तक बिजली पहुंचा दिया गया.

. जब महागठबंधन में थे तो उस समय गोद में थे, आरजेडी के साथी बनाने पर बोले सीएम नीतीश

.पहले बिहार में 700 मेगावाट बिजली खपत थी , आज 5900 मेगावाट खपत हो रही है

.अब खेत के लिए बिजली पहुंचाने का काम किया जाएगा.

. प्री-पेड स्मार्ट मीटर लग रहा है, लोक शिकायत निवारण कानून में सबसे ज्यादा शिकायत बिजली मीटर की आयी

.विपक्ष के हंगामे पर बोले सीएम- आप लोग सुनबे नहीं कीजिए सिर्फ हे, हे, हे करते रहिएगा.

.जब गरीब का बिल हजारों हजार में आने पर हमलोगों ने प्री-पेड मीटर की शुरूआत की गयी .

. एक लाख से ज्यादा प्री-पेड मीटर लग गया.

. बिहार में बिजली का दर ज्यादा होने के विपक्ष के आरोप पर सीएम नीतीश ने दिया जवाब

.बिहार में सबसे ज्यादा दर बिजली मिलती है, 4.5 रूपया रेट पर बिजली मिलती है.

. नीति आयोग की बैठक में हम लोगों ने एक देश एक रेट की मांग की है.

. अटल जी के शासनकाल में काम करने के अनुभव से हम आगे बढ़े है

. तेजस्वी को 1 साल 15 दिनों के काम जो हमारे साथ किए हैं उसे बताएं

.अटल जी के शासनकाल में बिहार के विकास के लिए काम किया गया है .

.बिहार का क्षेत्रफल कम, सर्वाधीक आबादी है, कृषि क्षेत्र कम है

.कृषि के क्षेत्र में काम हुआ, एक हेक्टेयर में उत्पादकता बढ़ी है

. कृषि रोडमैप के कारण उत्पादकता बढ़ी है

. बिहार में जैविक खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है

.नालंदा में जैविक खेती देखकर बिहार के अन्य जिलों में बढ़ावा दिया जा रहा है.

.जल जीवन हरियाली अभियान विधानमंडल के संयुक्त मत से चालू कराया गया.

. जल जीवन हरियाली अभियान का सात अंश है. जल और हरियाली है तो जीवन सुरक्षित है

. एक साल में 3 करोड़ से ज्यादा पौधे लगाए गए, कोरोना काल में यह काम किया गया.

. मौसम अनुकूल खेती को सरकार बढ़ावा दे रही है.

. माले विधायक के विरोध पर बोले सीएम नीतीश-पहली बार 12 सीटें मिली है, ये बात समझ लीजिए

.माले अगर जल जीवन हरियाली का विरोध करेगा तो वो पर्यावरण का दुष्मन होंगे

.APMC पर भी विपक्ष के आरोप का सीएम नीतीश ने दिया जवाब

.विपक्ष ने सदन से किया वॉकआउट, सीएम नीतीश ने किया कटाक्ष

. आप लोग बाहर जाकर देखिएगा मैं एक-एक चीज का जवाब दे रहा हूं

. बिहार में पहले अधिप्राप्ति नहीं होती थी, एफसीआई कुछ-कुछ करता था.

.2001 में 12 हजार मीट्रिक टन धान की अधिप्राप्ति होती थी.

. अब 2011-12 में धान की अधिप्राप्ति हो गयी 21 लाख 59 हजार मैट्रिक टन हो गयी.

. इस बार 21 फरवरी तक धान अधिप्राप्ति की तिथि बढ़ायी गयी. सभी किसानों से धान की खरीद की गयी.

.व्यापारी लोग अब धान को बेचने के लिए अपने आप को किसान बता रहा है.

.बिचौरियां को हमारी सरकार लूटने नहीं देगी.

. इस बार अभी तक 35 लाख 59 हजार मैट्रिक टन से ज्यादा धान की अधिप्राप्ति हो गयी.

. APMC एक्ट खत्म करने का परिणाम से व्यापार बढ़ा है.

. यह ठीक हैं कि बिहार में उद्योग नहीं लगा, रोजगार नहीं बढ़ा, इसपर हम लोग काम कर रहे हैं.

.सीमांचल ही क्यों? पूरे बिहार के विकास के लिए काम कर रहे हैं-नीतीश कुमार

. विकास के किसी काम की उपेक्षा नहीं की गयी

. स्वास्थ्य और शिक्षा के बारे में सीएम नीतीश ने बताया

.2005-06 में स्वास्थ्य के क्षेत्र में शिशु मृत्यु दर में ज्यादा थी.

.2006 फरवरी में सरकारी अस्पताल में 1000 आदमी इलाज कराने जाते थे, अब 10 हजार लोग जाते हैं

. 2005 में सरकार बनने के बाद प्लस पोलियो अभियान के तहत टीकाकरण चलाया गया.

.टीकाकरण में देश के सर्वोच्य पांच राज्यों में बिहार शामिल हो इस पर काम किया जा रहा है.

. प्रजनन दर पहले काफी ज्यादा थी, अब सरकार ने काम किया तो अब घटने लगी है.

. बिहार में अब इथनॉल का उत्पादन किया जाएगा, कितने लोगों के लिए रोजगार का अवसर उत्पन्न हो गया.

.पहले की सरकार के कारण बिहार को काफी नुकसान हो गया.

. कांग्रेस द्वारा शराब दुकान खुलवाने पर बोले सीएम नीतीश

.2016 में इसी सदन से यह कानून बना की शराबबंदी हो, फिर अब ये लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं.

. कांग्रेस के सदस्यता शपथ पत्र दिखाते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि अपने शपथ पत्र में शराब नहीं पीने की शपथ लेते हैं और अब दारू का दुकान खुलवाने की बात करते हैं

.शराबबंदी के लिए अपनी तरफ से किसी चीज को नहीं छोड़ रहे हैं.

. राज्यपाल का अभिभाषण में राज्य सरकार के द्वारा किए जा रहे कार्यों का उल्लेख किया गया है.

.सभी को अपना अधिकारी है, जो मन करे वह बोलिए.

.बिहार आत्मनिर्भर बनेगा , हम लोग मिलकर आगे ले जाएंगे, सब लोग मिलकर बिहार को विकसित राज्य बनेगा.

.