बोले शिवराज के मंत्री, आरक्षण से देश पिछड़ जाएगा, यह ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय है

madhya pradesh, bjp, reservation, india, shivraj singh chouhan, शिवराज सिंह चौहान, मध्य प्रदेश, भाजपा, आरक्षण, भारत

लाइव सिटीज डेस्क : SC-ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ दलितों ने 2 अप्रैल को भारत बंद का आयोजन किया था. कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ विपक्ष ने भी केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला था. तभी से भाजपा अपने दलित वोटरों को साधने का प्रयास कर रही है. हाल ही में आम्बेडकर जयंती पर बीजेपी नेताओं का खूब दलित प्रेम देखने को मिला. बीजेपी नेताओं ने यह भी साफ़ किया कि आरक्षण कभी ख़त्म नहीं होगा. लेकिन शिवराज सरकार में मंत्री गोपाल भार्गव का ताजा बयान पार्टी के लिए मुसीबत बन सकती है.

ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय हो रहा है

भार्गव ने रविवार को नरसिंहपुर में ब्राह्मण समाज द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि ‘यदि योग्यता को दरकिनार करके अयोग्य लोगों का चयन किया जाए, यदि 90 फीसदी वाले को बैठा दिया जाएगा और 40 फीसदी वाले की नियुक्ति की जाए तो यह देश के लिए घातक है.’ उन्होंने कहा इससे हमारा देश पिछड़ जाएगा. कहीं ब्राह्मणों के साथ अन्याय न हो जाए. यह प्रतिभा के साथ एक मजाक है और ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय हो रहा है.

पहले नीति थी, अब अनीति है

गोपाल ने कहा कि इसका कारण यह है कि पहले नीति थी, अब अनीति है. भार्गव ने कहा कि हर दल ब्राह्मण का समर्थन तो चाहती है पर उसे देना कुछ नहीं चाहती है. हम आज एक वोट बैंक बनकर रह गए हैं. जिस तरह से पहले दूसरी जातियां हुआ करती थी पर वे सभी सरकार से कुछ ना कुछ मांग चुकी हैं लेकिन ब्राह्मण ने ऐसा कुछ नहीं किया.

बाद में दी सफाई

हालांकि बाद में उन्होंने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान को राजनीतिक कारणों से तोड़ मरोड़ कर प्रस्तुत किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि वह आरक्षण के घोर समर्थक हैं और उन्होंने अपने बयान में आरक्षण शब्द का कहीं प्रयोग नहीं किया. भार्गव के मुताबिक उनके 40 साल के राजनीतिक करियर में भी उन्होंने कभी आरक्षण शब्द का उल्लेख नहीं किया.

About Razia Ansari 1935 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*